Share:
दर्दभरी होती है मोच, इन उपायों से मिलेगा जल्द आराम
दर्दभरी होती है मोच, इन उपायों से मिलेगा जल्द आराम

आज के समय में खानपान ऐसा हो गया हैं कि हड्डियां जल्दी चोटिल हो जाती हैं। जी हाँ और सबसे खासतौर से चलते हुए, दौड़ते हुए, सीढ़ियों से उतरते हुए या फिर कई बार यूं ही अचानक उठते हैं तो पैर मुड़ जाता हैं और मोंच आ जाती हैं। हालाँकि हड्डियों में किसी भी तरह का डैमेज होने से मोच की समस्या होती है और सूजन होने के साथ ही असहनीय दर्द या पीड़ा होती हैं। आपको बता दें कि पैरों में मोच आने के बाद किसी भी व्यक्ति को चलने, उठने-बैठने यहां तक की बिस्तर पर आराम से लेटने में भी परेशानी होती है। जी हाँ और मोच जैसी समस्या समय के साथ ही ठीक होती हैं, हालाँकि कुछ घरेलू उपायों की मदद से आप राहत पा सकते हैं। आज हम इसी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं।


बर्फ से सिकाई- मोच लगने के तुरंत बाद उस जगह पर बर्फ की सिकाई करने से सूजन नहीं आती है। जी हाँ और इसके अलावा बर्फ की सिकाई करने से दर्द भी दूर हो जाती है। ऐसे में मोच आने पर हर एक से दो घंटे में बर्फ से सिकाई करनी चाहिए। हालांकि सीधे ही बर्फ से सिकाई नहीं करनी चाहिए। बर्फ को हमेशा किसी कपड़े में लपेटकर सिकाई करनी चाहिए।

पतली है आइब्रो तो घना करने के लिए अपनाए ये घरेलू नुस्खे

 
अरंडी का तेल-
अरंडी का तेल मोच में होने वाले दर्द और सूजन से राहत दिलाने में एक पारंपरिक उपाय है। जी हाँ और अरंडी के तेल में ट्राइग्लिसराइड और रिसिनोलिक एसिड होते हैं जिनमे सूजनरोधी के गुण मौजूद पाए जाते हैं। ऐसे में सबसे पहले एक कपडे को अच्छे से फोल्ड कर लें। अब इस कपडे को अरंडी के तेल में डुबोएं। फिर कपडे को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं और प्लास्टिक रैप की चीज़ से इसे ढक लें। उसके बाद इसके ऊपर आधे घंटे तक गर्म बोतल रख दें। अपने टखने को एलिवेटेड अवस्था में कुछ मिनट के लिए रखें। अब पैक को उस क्षेत्र से हटा लें और बचे हुए तेल से त्वचा पर हल्के हल्के मसाज करें। इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो या तीन बार ज़रूर दोहराएं।
 
शहद और चूना- शहद और खाने वाले चूना का इस्तेमाल कर आप चोट और दर्द से निजात पा सकते हैं। इन दोनों में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो चोट में आराम दिलाते हैं। जी हाँ और इसके लिए जिस जगह चोट हो वहां पर थोड़ा सा शहद और थोड़ा खाने वाला चूना लगाएं। यह आपको थोड़ा गर्म लगेगा।
 
लौंग का तेल- मोच की समस्या आने पर लौंग का तेल बेहतरीन है। लौंग के तेल में एनेस्थेटिक गुण मौजूद होते हैं। जो स्वेलिंग और दर्द को कम करता है और इस तेल को दो चम्मच लेकर मोच वाले जगह पर अच्छे से मालिश करें। इसी के साथ मसल्स के पेन में भी काफी आराम मिलेगा।

 PCOS से हैं परेशान तो आपके काम आएँगे मेथी, गुड़ और हल्दी


हल्दी और प्याज- अगर आप अंदरुनी चोट के दर्द से परेशान हैं तो हल्दी और प्याज से भी इस समस्या से निजात में मदद मिलेगी। दर्द दूर करने के लिए हल्दी का उपयोग कोई नई बात नहीं है। जी हाँ और अगर आपके पैर-हाथ में कहीं फ्रैक्चर हो गया हो, लेकिन सूजन और दर्द से निजात नहीं मिल रही हो तो हल्दी और प्याज को कूटकर सरसों के तेल में डालकर गरम कर लें। जब यह थोड़ा उबल जाए तो इसका लेप चोट वाली जगह पर लगाएं या बांध लें। यह रातभर रहने दे।

 
सेंधा नमक-
मोच की समस्या से राहत पाने के लिए एक बाल्टी में गुनगुना पानी लें और इसमें आधा चम्मच सेंधा नमक डालें। इस पानी में आधे घंटे पैर को डालकर बैठें।

बालों को काला करेगी कलौंजी, जानिए इसके अन्य फायदे

गर्दन हो गई है काली तो काम आएगा गुलाब जल और फिटकरी

PCOS से हैं परेशान तो आपके काम आएँगे मेथी, गुड़ और हल्दी

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -