MWC 2016 में सभी से हटकर पेश किया गया इन टेक्नोलॉजी को

MWC 2016 में सभी से हटकर पेश किया गया इन टेक्नोलॉजी को

MWC 2016 में कम्पनियो ने सिर्फ स्मार्टफोन ही लॉन्च नही किये है. कम्पनिया अपनी कुछ अच्छी टेक्नोलॉजी भी सामने लेकर आई है. मैजिक ड्रॉइंग क्रोमविले एक ऐसा ऍप है जो बच्चो को ड्राइंग के 3D होने का अहसास कराता है. इस ऍप को डाउनलोड करने के बाद जब बच्चे अपनी ड्राइंग को किसी मोबाइल के सामने रखेंगे तो उन्हें अपनी ड्राइंग 3D में दिखाई देगी. इस ऍप को डाउनलोड करने में यूजर्स में यूजर्स को 300 रुपए खर्च करना पड़ेगा.

पैक रोबोट्स तकनीक का इस्तेमाल होम डिलीवरी बॉयज की छुट्टी करने के लिए कर सकते है. यह रास्ता तलाश करने के काम में आता है. इस तकनीक से किसी और को कोई नुकसान भी नही होगा. इस पैक रोबोट्स की रफ़्तार 6 किलोमीटर प्रतिघंटा है. इस पैक रोबोट्स को 2017 में उपलब्ध कराया जायेगा. इसकी कीमत के बारे एम अभी कुछ नही बताया गया है.

फुड प्रिंटर का इस्तेमाल पापड़, बिस्किट्स या चिकन पीस प्रिंट करने में किया जाता है. इसे 3D फुड प्रिंटर को फुडिनी नाम से जाना जाता है. इसे यूजर्स अपने मोबाइल और लैपटॉप से कनेक्ट भी कर सकते है. इसे बहुत जल्दी मार्केट में उपलब्ध कराया जायेगा. इसकी कीमत 1 लाख से 1 लाख 36 हजार के आस पास हो सकती है.

जिन बच्चो को पेपर आर्ट करने का शौक है वे पेपर प्रोग्रामिंग का इस्तेमाल कर सकते है. पेपर प्रोग्रामिंग के लिए ‘कैमीबोट’ रोबोट का इस्तेमाल किया जाता है. बचे इसे अपने इशारो पर काम करवा सकते है. इसका इस्तेमाल करके बच्चे प्रोग्राम सीख सकते है. इसकी कीमत 6 हजार रुपए बताई गई है.

बोलने पर मैसेज टाइप हो जाये इसके लिए आई राइट टेक्नोलॉजी को सामने लाया गया है. आईरिसबॉन्ड नाम का यह ऍप आँखों के इशारो से आपका काम करेगा. इसक इस्तेमाल करके से स्मार्टफोन या टैबलेट के माउस प्वाइंटर को कंट्रोल भी कर सकते है. इसकी कीमत के बारे में कुछ नही बताया गया है.