शिवसेना ने दिया पाकिस्तान को करारा जवाब

मुंबई : शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में पाकिस्तान को लेकर कड़ी टिप्पणी की है। जिसमें शिवसेना की ओर से कहा गया है कि पार्टी को अपना शत्रु मानने के लिए धन्यवाद है। खुद को आतंकी पार्टी घोषित किए जाने को लेकर शिवसेना ने अपनी मांग की है। जिसमें तंज कसा गया है कि पार्टी ने सामना के माध्यम से संपादकीय में पाकिस्तान को अपना जवाब दिया। शिवसेना ने पाकिस्तान द्वारा विरोधी बातें करने को लेकर यह कहा गया कि उन्हें परमवीर चक्र दिया गया है।

पाकिस्तान उन्हें शत्रु मानता है और इसके लिए वे उसे धन्यवाद देते हैं। मिली जानकारी के अनुसार शिवसेना के मुखपत्र सामना में शिवसेना ने संपादकीय में लिखा है कि देश में पाकिस्तानियों को रोकने की हिम्मत केवल शिवसेना द्वारा की गई। यही नहीं शिवसेना को उस पर गर्व है। जिसमें यह कहा गया है कि पार्टी अपने ऐसे कार्यकर्ताओं पर भी गर्व है जिन्होंने गज़ल गायक गुलाम अली का कार्यक्रम रद्द करवा दिया। पाकिस्तान को लेकर शिवसेना अपने विरोधी रूख पर कायम है। सामना में शिवसेना द्वारा यह भी प्रकाशित किया गया है कि उनके डर के चलते ही भारत और पाकिस्तान के क्रिकेट बोर्ड द्वारा चर्चा रद्द कर दी गई है।

शिवसेना ने पूर्व विदेश मंत्री, पाकिस्तान के विरूद्ध भी अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। यही नहीं सारे विश्व में आतंकी मसूद अजहर, हाफिज सईद का विरोध हो रहा है लेकिन इस बात में कोई आश्चर्य नहीं कि पाकिस्तान इन्हें संत की उपाधि दे दे। गौरतलब है कि हाल ही में पाकिस्तान के द्वारा शिवसेना को आतंकी संगठन की उपाधि दी गई थी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -