दिल्ली सरकार ले रही बस्ते के बोझ से परेशान बच्चों की सुध

नई दिल्ली : आखिरकार सरकारी विद्यालयों में पाठ्यक्रम के बढ़ते बोझ और स्कूली बच्चों की टेंशन को लेकर दिल्ली सरकार ने नज़रें इनायत की हैं। दिल्ली सरकार शिक्षा के क्षेत्र में होमवर्क करने के बाद ही पाठ्यक्रम में बड़ा बदलाव करने जा रही है। इस दौरान सरकार द्वारा कक्षा 1 ली से 8 वीं तक बस्ते का बोझ करीब 25 प्रतिशत तक कम किए जाने का विचार किया जा रहा है। हाल ही में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने इस दौरान पहल की है। पाठ्यक्रम में 25 प्रतिशत की कमी करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

इसे लेकर शिक्षाविदों और अभिभावकों से भी चर्चा की जाएगी। माना जा रहा है कि सरकार ऐसा पाठ्यक्रम तैयार कर सकती है जिससे बच्चों को मनोरंजक शिक्षा मिले और उन्हें पाठ्य सामग्री स्कूल में भी रखने की सुविधा मिल सके। इसके लिए खेल, कला, साहित्य, सगीत, थियेटर आदि को भी शामिल करने पर विचार किया जा रहा है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -