नहीं रही क्रिकेट की आवाज

Apr 10 2015 07:45 PM
नहीं रही क्रिकेट की आवाज
style="text-align: justify;">अपने समय के बेहतरीन ऑलराउंडर्स ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेट कप्तान और कमेंटेटर रिची बेनो का गुरुवार रात सिडनी में निधन हो गया। वह 84 वर्ष के थे। यह जानकारी क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने दी। रिची लंबे समय से त्वचा के कैंसर से जूझ रहे थे। वह 2013 में एक गंभीर कार दुर्घटना का भी शिकार हुए थे, इससे भी उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ा था। उन्हें ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट के लीजेंड के तौर पर जाना जाता है. रिची बेनो एक बेहतरीन ऑलराउंडर थे.

रिची बेनो ने अपने क्रिकेट कॅरियर में 248 विकेट लिए, वें लेग स्पिनर थे. रिची बेनो टेस्ट क्रिकेट में 2000 से ज्यादा रन और 200 से ज्यादा विकेट लेने वाले विश्व के पहले खिलाड़ी है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के ओर से 63 टेस्ट खेले और इनमें से 28 में कप्तानी की. ऑस्ट्रेलिया ने उनकी कप्तानी में एक भी टेस्ट सीरीज नहीं हारी है. साल 1964 में उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहा. क्रिकेट से सन्यास लेने के बाद वें दुनिया में सबसे बड़े कमेंटेटर और ब्रॉडकास्टर के तौर पर उभरे.

दुनिया भर में उनकी पहचान सबसे प्रतिष्ठित क्रिकेट आवाज़ के तौर पर होती थी. वे एक असाधारण कमेंटेटर थे. उनकी कमेंट्री को भी दुनिया लम्बे समय तक याद रखेगी. जैसे कि एक बार ग्लेन मेग्रा के 2 रन पर आउट हो जाने के बाद उन्होंने कमेंट्री करते हुए कहा था कि, "और ग्लेन मेग्रा दो रन पर आउट हो गए, अपने शतक से महज 98 रन दूर."