घृणा घृणा से नहीं

घृणा घृणा से नहीं ,

प्रेम से खत्म होती है,

यह शाश्वत सत्य है.

 
- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -