फेक न्यूज़ फैलाने वालों के खिलाफ राजस्थान सरकार सख्त, बनें ये रणनीति

Aug 20 2019 05:12 PM
फेक न्यूज़ फैलाने वालों के खिलाफ राजस्थान सरकार सख्त, बनें ये रणनीति

अजमेर: फेक न्यूज़ के जरिए समाज में भ्रम कि स्तिथि उत्पन्न करने और तनाव बढ़ाने वालों के खिलाफ अब पुलिस अधिक सख्ती से पेश आएगी. अजमेर में इस बारे में पुलिस ने सोशल मीडिया का उपयोग ऐसी खबरों को काउन्टर करने के लिए करने का फैसला लिया है. साथ ही ऐसे शरारती तत्वों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का भी निर्णय लिया है.

एक छोटी सी फेक न्यूज़ कानून व्यवस्था के लिए एक बड़ी समस्या बन जाती है. यही कारण है कि अब राजस्थान पुलिस ने ऐसी झूठी खबरों को काउन्टर करने का फैसला लिया है. अजमेर पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप के मुताबिक पुलिस हेड क्वाटर से मिले निर्देशों की पालना में अजमेर पुलिस ने फेक न्यूज़ को सोशल मीडिया प्लेटफोर्म पर ही रोक देने  की रणनीति बनाई है. पुलिस द्वारा अब सोशल मीडिया पर कड़ी निगाह रखी जाएगी और अगर कोई फेक न्यूज़ सामने आती है तो तत्काल उसका जवाब दिया जाएगा. 

अजमेर पुलिस द्वारा यह भी फैसला लिया गया है कि फेक न्यूज फैलाने वालो की भी पहचान की जाए और उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए. इसके लिए अजमेर पुलिस की सोशल मीडिया विंग पहले से काम में लगी हुई है, किन्तु अब उसे अधिक सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं. 

कॉरपोरेट टैक्स को कम करने को लेकर वित्त मंत्री ने कही यह बात

डायरेक्ट टैक्स कोड में हो सकता है बड़ा रिफॉर्म, कमेटी ने वित्त मंत्री को सौंपी रिपोर्ट

Maharashtra Floods 2019: मुकेश अंबानी ने 5 करोड़ और बिग बी ने 51 लाख रुपये का योगदान दिया