Share:
फायरिंग की घटना के बाद जोधपुर सेन्ट्रल जेल में रेड
फायरिंग की घटना के बाद जोधपुर सेन्ट्रल जेल में रेड

जोधपुर. राजस्थान की जोधपुर जेल फिर से चर्चा में है. यह जेल से जबरदस्ती वसूली करने का मामला है. इसी कारण बड़ी संख्या में पुलिस बल साथ लेकर अधिकारियों ने जोधपुर जेल में रेड की है. इस कार्यवाही के दौरान वहां से एक दर्जन से अधिक मोबाईल फोन और दो दर्जन सिमकार्ड बरामद किए है. बता दे कि जोधपुर जेल का नाम देश की सबसे सुरक्षित जेलों की फेहरिस्त में आता है. किन्तु कैदी कई बार यहाँ सुरक्षा में दरार बन चुके है.

जोधपुर जेल में कई आतंकी और पाकिस्तानी जासूस भी बंद है. इस जेल के तार जबरदस्ती वसूली के लिए की गई फायरिंग की घटना से भी जुड़ रहे है. हुई फायरिंग की घटना के कारण पूरा शहर दहल गया था. जोधपुर में बीती 17 मार्च को सुबह 6 बजे बाइक सवार आधा दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने श्रीराम हॉस्पिटल के मालिक सुनील चांडक और एक ट्रेवल कंपनी मालिक मनीष जैन के घर पर ताबड़तोड़ फायरिंग की थी. फायरिंग के बाद बदमाश मौके से भाग गए.

जबस्दस्ती वसूली का यह मामला अब जेल से जुड़ता नजर आ रहा है, इस गुत्थी को सुलझाने के लिए पुलिस के शीर्ष अधिकारी डेढ़ सौ जवानों के साथ जोधपुर सेन्ट्रल जेल में रेड के लिए गए थे. उन्होंने तलाशी के दौरान 14 मोबाइल फोन और 24 सिम कार्ड बरामद किए हैं. इस मामले में पुलिस को शक़ है कि जेल में बंद कई गैंगस्टर मोबाइल से अपने अपने गैंग का संचालन जेल के अंदर से ही कर रहे हैं. पुलिस इस केस में जांच कर रही है.

ये भी पढ़े 

बच्चो की एग्जाम के समय सामने आई ऐसी शर्मनाक घटना जो आपको हैरान कर देगी

सेल्फी के चक्कर में गई मेजर की जान, पानी में डूबने से मौत

जेल विभाग में वार्डर के बहुत से रिक्त पदों पर होगी भर्ती

 

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -