सराहनपुर जातीय हिंसा : दलित परिवारों से मिलने पहुंचे राहुल गांधी

सहारनपुर। उत्तरप्रदेश के सहारनपुर में राहुल गांधी आज पहुंचे। दरअसल यहां पर हुई हिंसा को लेकर उन्होंने दलित परिजन से भेंट की। गौरतलब है कि यहां पर हिंसा का दौर करीब 20 दिनों से जारी है। 5 मई को शब्बीरपुर गांव में दलितों व ठाकुरों के बीच विवाद हो गया था। इस विवाद में एक ठाकुर को गोली मार दी गई थी। इस मामले में करीब 2 लोगों की मौत हो गई है। उत्तरप्रदेश के एडीजी लाॅ एंड आॅर्डर, आदित्य मिश्रा द्वारा कहा गया कि राहुल गांधी को सहारनपुर बाॅर्डर पर रोक दिया जाएगा।

उन्हें जिले में नहीं आने दिया जाएगा। गोरतलब है कि महाराणा प्रताप शोभायात्रा के तहत कुछ लोगों का विवाद डीजे बजाने को लेकर हो गया था। इतना ही नहीं ठाकुरों व दलितों के बीच विवाद हो गया था। ऐसे में ठाकुर समुदाय से एक व्यक्ति को गोली लग गई थी और इसी दौरान उसकी मौत हो गई थी। ठाकुरों ने बदला लेते हुए करीब 60 से भी अधिक घर जला दिए थे। उनके वाहनों में आग लगा दी गई थी।

हिंसक घटना इसके बाद भी नहीं रूकी और फिर जब 9 मई को दलित सहारनपुर पहुंचे और एकत्रित हुए तो फिर 9 जगह पर हिंसा हुई। दुकानों व वाहनों में आग लगा दी गई। इसके बाद 21 मई को दलितों ने बड़े पैमाने पर दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया। जब मायावती ने 23 मई को सभा का आयोजन किया और यहां पर प्रभावितों को आर्थिक सहायता की घोषणा की तो फिर इसके बाद यहां से वापसी करने वाले दलितों को मारा गया।

इस हमले में दलित घायल हो गए। अब सहारनपुर, गाजियाबाद व मेरठ में सुरक्षा बल तैनात किया गया है। पीड़ितों के लिए तरह तरह की घोषणाऐं की गई हैं और अधिकारियों द्वारा प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर लिया गया है। इस मामले में जमकर राजनीति हो रही है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी दलित परिवारों से मिलने पहुंचे।

सहारनपुर के लिए रवाना हुए राहुल गांधी, अखिलेश का मिल सकता है साथ

राहुल गाँधी को नहीं मिली इजाजत सहारनपुर दौरे की

राहुल को सहारनपुर जाने से रोका

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -