Share:
पीटी उषा ने प्रदर्शनकारी पहलवानों से मुलाकात कर कही ये बात
पीटी उषा ने प्रदर्शनकारी पहलवानों से मुलाकात कर कही ये बात

भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के विरुद्ध विरोध प्रदर्शन करने वाले पहलवानों के प्रति असंवेदनशील होने के इल्जामों का सामना कर रही भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) की अध्यक्ष पीटी उषा ने बुधवार को जंतर-मंतर पर उनसे मुलाकात की और उन्हें समर्थन का आश्वासन भी देकर आई। पूर्व फर्राटा धाविका उषा ने इससे पूर्व अपने मुद्दों के लिए आईओए से संपर्क करने के बजाय फिर से विरोध शुरू करने के लिए पहलवानों की कड़ी निंदा भी की थी। उन्होंने इस बारें में बोला था कि पहलवानों को अनुशासन दिखाना चाहिए था। इस टिप्पणी के उपरांत उनकी और IOA की आलोचना हुई थी। उषा मीडिया से बात किए बिना चली गईं लेकिन बजरंग पूनिया  ने इस बारें में बोला है कि उन्होंने मदद का आश्वासन दिया है। 

बजरंग ने मीडिया से बोला है, ‘‘शुरू में जब उन्होंने ऐसा कहा तो हमें बहुत बुरा लगा लेकिन फिर उन्होंने बोला कि उनकी टिप्पणियों का गलत मतलब निकाला गया। उन्होंने अपनी बात को जारी रखते हुए ये भी कहा है कि वह पहले एथलीट हैं और बाद में प्रशासक हैं।'' तोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाले इस पहलवान ने इस बारें में बोला है कि, ‘‘ हमने उससे बोला कि हमें न्याय चाहिए। हमारा सरकार या विपक्ष या किसी और से कोई झगड़ा नहीं है। हम यहां कुश्ती की बेहतरी के लिए बैठे हैं। यदि यह मसला सुलझ जाता है और आरोप (डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ) साबित हो जाते हैं तो कानूनी कार्रवाई होना जरुरी है।'' 

बजरंग से जब पूछा गया कि क्या उषा सरकार या IOA की ओर से समाधान लेकर आई थी तो उन्होंने इस बारें में बोला था, ‘‘ऐसा कुछ नहीं था। उन्होंने केवल इतना बोला है कि वह हमारे साथ है।'' बजरंग ने फिर से दोहराया कि अगर उन्हें न्याय नहीं मिला तो विरोध प्रदर्शन भी जारी रहने वाला है। उन्होंने ये भी कहा है कि ‘‘अगर वह हमें आश्वासन दे रही हैं तो मुझे लगता है कि उन्हें उस आश्वासन को पूरा करना जरुरी है। लेकिन हमने उन्हें स्पष्ट किया कि जब तक चीजें ठीक नहीं होंगी और हमें न्याय नहीं मिलेगा, यह विरोध जारी रहने वाला है। हमें हालांकि न्याय मिलने की पूरी उम्मीद है।'' उन्होंने बोला है कि, ‘‘उन्होंने जो बातें कही हैं अगर उस दिशा में कोई पहल होती है तो निश्चित रूप से इस मुद्दे का समाधान होगा। उन्होंने कहा कि वह हमारी सभी समस्याओं को दूर करने का प्रयास करेंगी। वह चाहे तो कुछ भी कर सकती हैं।''

मैड्रिड ओपन में दानिल मेदवेदेव हुए उलटफेर का शिकार

रियल मैड्रिड से मुकाबला करेगी भारतीय अंडर-17 टीम, कोच ने कहा- यह बड़ा अवसर है

तेपे सिगमन सुपर ग्रांड मास्टर शतरंज में भारत के गुकेश और अर्जुन बने खिताब के दावेदार

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -