दादरी हत्याकांड पर मोदी ने तोड़ी चुप्पी, कहा : राष्ट्रपति के बताए रास्ते पर चलें

नवादा : दादरी हत्याकांड पर अपनी चुप्पी को लेकर विपक्ष के निशाने पर आए PM नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को बिहार के नवादा में मामले पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि 'हिन्दुओं और मुसलमानों को गरीबी के साझा दुश्मन से लड़ने के लिए साथ काम करना चाहिए और नेताओं के गैरजिम्मेदाराना बयानों पर ध्यान नहीं देना चाहिए. छोटे-मोटे लोग राजनीतिक फायदा उठाने के लिए इस तरह के उल्टे-सीधे बयान देते रहते हैं. हमें इन्हे नज़र अंदाज़ करना चाहिए.

गुरुवार को नवादा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए PM मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा देशवासियों को विविधता, सहिष्णुता और बहुलता के मूल सभ्यता मूल्यों के संरक्षण को लेकर दिए गए संदेश का पालन करना चाहिए. 

उन्होने कहा ‘मैंने पहले भी कहा है. हिन्दुओं को फैसला करना चाहिए कि मुस्लिमों से लड़ें या गरीबी से. और मुसलमानों को फैसला करना चाहिए कि वो हिन्दुओं से लड़ें या गरीबी से. दोनों को साथ मिलकर गरीबी से लड़ना चाहिए और देश को एकजुट रहना चाहिए. 

PM ने कहा कि राष्ट्रपति ने जो बयान दिया है ‘इससे बड़ा कोई मार्गदर्शन नहीं, कोई बड़ा संदेश नहीं है, कोई बड़ी दिशा नहीं है इसीलिए हमें इसी का अनुशरण करना चाहिए.’ उन्होने कहा कि देश के लोगों को राष्ट्रपति के दिखाए रास्ते पर चलना चाहिए और ‘तभी भारत दुनिया की अपेक्षाओं को पूरा कर सकता है.’ 

क्या कहा था 'राष्ट्रपति' ने ?

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कल गुरुवार को कहा था कि ''हम सबको मिल-जुलकर रहना होगा और सांस्कृतिक विविधता को ध्यान में रखना होगा. हमारी सभ्यता पर हमले हुए, लेकिन हमारे सामाजिक मूल्यों के कारण ही हमारी सभ्यता आज भी जीवित है.''

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -