प्रधानमंत्री मोदी का बड़ा बयान, बोले- अफगान के हिंदुओं और सिखों को शरण देगा भारत

नई दिल्ली: अफगानिस्तान की स्थितियों को लेकर प्रधानमंत्री आवास पर कल मंगलवार को बड़ी मीटिंग हुई जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान में फंसे भारत के नागरिकों की सकुशल वापसी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत आने वाले प्रत्येक अल्पसंख्यक की सहायता की जाएगी। पीएम की अगुवाई वाली मीटिंग में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तथा एनएसए अजित डोभाल भी उपस्थित रहे।

सूत्रों के मुताबिक, पीएम मोदी ने मीटिंग में सभी संबंधित अफसरों को आने वाले दिनों में अफगानिस्तान से भारतीय नागरिकों की सुरक्षित निकासी सुनिश्चित करने के लिए सभी जरुरी उपाय करने का निर्देश दिया। एक सीनियर अफसर के मुताबिक, पीएम मोदी ने यह भी कहा कि भारत को न सिर्फ अपने नागरिकों की रक्षा करनी चाहिए, बल्कि हमें उन सिख एवं हिंदू अल्पसंख्यकों को भी शरण देनी चाहिए जो देश आना चाहते हैं, तथा हमें हरसंभव सहायता भी प्रदान करनी चाहिए। सहायता के लिए भारत की तरफ देख रहे हमारे अफगान भाइयों एवं बहनों की सहायता की जाए।

वही मीटिंग में प्रधानमंत्री मोदी के प्रधान सचिव डॉक्टर पीके मिश्रा, एनएसए अजित डोभाल तथा मंत्रीमंडल सचिव राजीव गौबा समेत कई सीनियर अफसर भी सम्मिलित हुए। कहा जा रहा है कि मीटिंग में विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला तथा राजदूत रुद्रेंद्र टंडन भी उपस्थित थे। राजदूत टंडन काबुल से आने वाली उड़ान से कल जामनगर में उतरे। इस मध्य विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने मंगलवार को विदेश मंत्रालय की तरफ से 24 घंटे चलने वाले खास अफगानिस्तान सेल के नंबर भी जारी किए। 

तालिबान ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से मांगी मान्यता, महिलाओं को लेकर कही ये बड़ी बात

जापान को मिला नया द्वीप, छुपी है इसके पीछे कोई खास वजह

अफ़ग़ानिस्तान में अब ख़त्म नहीं हुई जंग...उपराष्ट्रपति सालेह ने खुद को घोषित किया 'कार्यवाहक राष्ट्रपति'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -