राहुल गांधी की तरह बिना काम किए जीने की कला नहीं आती- रेल मंत्री

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उनपर लगे कथित 'संदिग्ध कारोबारी सौदों' को लेकर कांग्रेस पर पलटवार किया है. पीयूष गोयल ने मंगलवार को पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम और राहुल गांधी पर सीधा हमला बोला. केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट किया कि मैं लॉ टॉपर हूं, पूरे देश में 2nd रैंक का CA रहा हूं, प्रोफेशनल चार्टड अकाउंटेट भी रहा हूं, इन्वेस्टमेंट बैंकर भी हूं इसलिए सलाह देने में सक्षम हूं. लेकिन पी. चिदंबरम जी, आपके बेटे कार्ति के मामले में कौन सलाहकार है. 26 मई 2014 से पहले जब मैं मंत्री नहीं था, तब बतौर CA और इन्वेस्टमेंट बैंकर कार्यरत था. राहुल गांधी की तरह मुझे बिना काम किए जीने की कला नहीं आती है. मैं एक कामदार हूं, नामदार नहीं.

आपको बता दें कि मंगलवार सुबह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पीयूष गोयल पर हमला किया. राहुल ने पीयूष पर घोटाले का आरोप लगाते हुए उनका इस्तीफा मांगा था. गौरतलब है कि सूत्रों के अनुसार शनिवार एक खबर में कहा गया था कि गोयल और पीरामल ग्रुप के बीच सौदे से हितों के टकराव का मामला बनता है, क्योंकि रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के दस्तावेजों से यह पता चलता है कि गोयल और उनकी पत्नी के संयुक्त स्वामित्व वाली कंपनी को पीरामल ग्रुप को काफी मुनाफे पर बेचा गया. कथ‍ित तौर पर यह साल

 मामला 2014  का है, जब पीयूष गोयल विद्युत राज्य मंत्री थे. हालांकि पीरामल ग्रुप ने भी यह साफ किया है कि इस सौदे में कुछ भी गलत नहीं है और एक स्वतंत्र चार्टर्ड एकाउंटेंट ने फ्लैशनेट इंफो सोल्युशंस प्राइवेट लिमिटेड (जिस कंपनी से मुनाफा कमाने की बात है) का 47.96 करोड़ रुपये का वैल्यूएशन किया था. इसी हमले का पीयूष ने करारा जवाब दिया है. 

लालू की एम्स से छुट्टी, उनकी मर्जी या जबरदस्ती ?

राहुल के विमान के हादसे की FIR से BAOA को एतराज

बड़े दिनों बाद मोदी सरकार पर जमकर बरसीं सोनिया गांधी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -