Share:
कोरोना से मौत का फर्जी सर्टिफिकेट दिखाकर मुआवज़ा ले रहे लोग.., भड़का सुप्रीम कोर्ट
कोरोना से मौत का फर्जी सर्टिफिकेट दिखाकर मुआवज़ा ले रहे लोग.., भड़का सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली: भारत में कोरोना संक्रमण से होने वाली मौत के बाद मृतकों के परिवार वालों को दिए जाने वाले मुआवजे पर सर्वोच्च न्यायालय में सुनवाई हो रही है. सोमवार को मामले की सुनाई के दौरान सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने अदालत को बताया कि कोरोना से होने वाली मौत का मुआवजा आश्रित परिजनों को सभी राज्यों में प्रदान किया जा रहा है.  

तुषार मेहता ने कहा कि मुआवजा देने में यह दिक्कत भी आ रही है कि डॉक्टर अन्य कारणों से हुई मौत को भी कोरोना से हुई मौत बताते हुए नकली सर्टिफिकेट दे रहे हैं. तमाम पक्षों को सुनने के बाद न्यायमूर्ति एमआर शाह ने मुआवजे के लिए फर्जी सर्टिफिकेट पेश करने पर नाराजगी प्रकट की. न्यायमूर्ति एमआर शाह ने कहा कि कुछ डॉक्टरों के ऐसे फर्जी प्रमाण पत्र देने से किसी वास्तविक हकदार का अवसर छिन सकता है. उन्होंने फर्जी सर्टिफिकेट के आधार पर मुआवजा लेने के मामले की स्वतंत्र जांच का आदेश देने के संकेत भी दिए.

इसके साथ ही शीर्ष अदालत ने सभी पक्षों से फर्जी प्रमाणपत्रों के मुद्दे पर लगाम लगाने के लिए सुझाव देने को भी कहा है. इस दौरान सॉलिसीटर जनरल ने सर्वोच्च न्यायालय से यह अनुरोध किया कि अदालत यह निर्देश दे कि आवेदन करने वालों को मुआवजा मिले. मगर उसका एक समय निश्चित किया जाए. ऐसे ही आवेदन और मुआवजे की प्रक्रिया निरंतर न चलती रहे.

अंतराष्ट्रीय महिला दिवस पर दे सकते हैं यह 4 सबसे खास गिफ्ट्स

राष्ट्रपति वर्ष 2020, 2021 के नारी शक्ति पुरस्कार प्रदान करेंगे

कहीं बारिश तो कहीं हिमपात, जानिए देशभर में आज कैसा रहेगा मौसम

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -