अधिकारी ने लाइव दिखाया कैसे करता था चोरी

Jan 20 2018 10:18 AM

देवास :  मध्यप्रदेश के देवास जिला मुख्यालय स्थित केंद्र सरकार के उपक्रम बैंक नोट प्रेस के एक अधिकारी को चोरी के मामले में हिरासत में ले लिया गया. पास से दो सौ के नोट की गड्डी जब्त की गई है वहीं इस मामले के बाद पुलिस ने उनके घर पर छापे मार कार्रवाई की है जिसमें उनके घर और दफ्तर से 90 लाख 59 हजार रुपये बरामद किए हैं. पुलिस ने जब पूछताछ कि तो आरोपी ने अपना जुर्म कबुल किया. आरोपी ने बताया कि वह किस तरह इस वारदात को अंजाम देता था. इसका एक वीडियो भी बनाया गया. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि, किस तरह आरोपी पैसे जूते में छुपा कर ले जाता था. उसने यह भी बताया कि दो महीने से वह चोरी कर रहा है. लेकिन सीसीटीवी कमरे के कारण वह पकड़ा गया.   

बता दे कि, बैंक नोट प्रेस के प्रबंधन ने अपने मुख्य पर्यवेक्षक मनोहर वर्मा को नोट चुराते हुए पकड़ा था. आरोपी  के पास से  दो सौ और पांच सौ रूपयों के 26 लाख नौ हजार से अधिक मूल्य के नोट बरामद किये गए. इसके बाद प्रबंधन ने वर्मा को पुलिस को सौंप दिया था. बैंक नोट प्रेस सूत्रों का कहना है कि केंद्र सरकार के उपक्रम बैंक नोट प्रेस में दो सौ और पांच सौ रूपए मूल्य के नोट छापे जाते हैं. इस संस्थान में गोपनीयता और सुरक्षा की दृष्टि से काफी सतर्कता भी बरती जाती है. 

बैक नोट प्रेस थाने के प्रभारी उमराव सिंह ने बताया कि शुक्रवार सुबह प्रेस में तैनात सीआईएसएफ के जवानों ने उप नियंत्रण अधिकारी मनोहर वर्मा की गतिविधि संदिग्ध लगी. जिसपर उनकी तलाशी ली. जिसमें उनको नोट ले जाते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है वहीं पुलिस ने इस मामले में उन्हों के ठिकानों पर छापे मारे जिसमें 500 और 200 रुपये के नोट निकले हैं, जिनकी छपाई इस बैंक नोट प्रेस में होती है. 

आंनदीबेन पटेल होगी मध्यप्रदेश की राज्यपाल

मराठी बिगबॉस होस्ट करते नजर आएंगे ये मशहूर एक्टर

सीएम ने मीटिंग में केंद्र के समक्ष रखी मांगें