नेपाल की मदद के लिए आगे आए प्रवासी भारतीय

Apr 30 2015 02:15 PM
नेपाल की मदद के लिए आगे आए प्रवासी भारतीय

नेपाल : नेपाल में आई प्राकृतिक त्रासदी के पीड़ितों के राहत एवं बचाव कार्य में लगे गायत्री परिवार को अमरीका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया जैसे अनेक देशों में रह रहे प्रवासी भारतीयों ने अपनी सेवा देने की पेशकश की है। प्रवासी भारतीयों ने गायत्री परिवार प्रमुख प्रणव पंड्या को इसके लिए अपना संकल्प व आश्वासन दिया है।

न्यूजर्सी के पार्थ देसाई ने अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि हम अपना समय तो नहीं दे सकते, किंतु गायत्री परिवार द्वारा चलाए जा रहे आपदा प्रबंधन के कार्य में भोजन, चिकित्सा व अस्थाई आवास की व्यवस्था हेतु शांतिकुंज आपदा राहत कोष में योगदान देकर मानवता की सेवा कर रहे हैं।

शांतिकुंज से संबद्ध 80 देशों में फैले गायत्री परिवार के सदस्यों ने भूकंप पीड़ितों के लिए विशेष प्रार्थना सभाएं आयोजित कीं। संस्था प्रमुख पंड्या ने नेपाल के भूकंप पीड़ितों को हर संभव सहयोग प्रदान करने और उनके साथ खड़े रहने का अपना संकल्प दोहराया।

गायत्री परिवार के मुख्यालय शांतिकुंज से राहत कार्य के लिए एक आपदा प्रबंधन दल राशन किट, कंबल, तिरपाल, साड़ियां एवं बच्चों के कपड़ों सहित जीवन रक्षक दवाएं लेकर नेपाल को रवाना हुआ। इस अवसर पर संस्था की अधिष्ठात्री शैल दीदी ने कहा कि भूकंप पीड़ितों को हरसंभव सहायता दी जाएगी।