उसूलों से समझौता नहीं करेंगी महबूबा

Feb 06 2016 12:03 PM
उसूलों से समझौता नहीं करेंगी महबूबा

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में राज्य सरकार में मुख्यमंत्री पद पर पदस्थापना करने और सरकार बनाने को लेकर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को स्पष्ट कर दिया कि उन्हें पार्टी के उसूलों या फिर कुर्सी में से किसी एक का चयन करना होगा। तो वे उसूल का ही चयन करेंगी। इसी के साथ भाजपा और पीडीपी के गठबंधन में दूरियों के संकेत मिले हैं।  

दरअसल जम्मू - कश्मीर में सरकार गठन को लेकर लगी अटकलों पर विराम लग गया है। बीते दिनों जम्मू में पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं से भेंट करने के साथ पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि उनके पिता और पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद के उसूल व आदर्श उनके लिए विरासत हैं। 

महबूबा मुफ्ती अपने भाई तस्सदुक मुफ्ती के साथ पहली बार पार्टी मुख्यालय पहुंची। यदि सत्ता और इन उसूलों में से किसी एक का चयन करना होगा तो वे उसूलों का ही चयन करेंगी। महबूबा ने कहा कि उनके पिता ने 55 वर्ष के राजनीतिक जीवन में विपक्ष में ही गुज़ारा किया। विपक्ष यदि आवश्यक समझे तो उन्होंने जितना भी नाम कमाया। 

उन्होंने जितनी भी ऊॅंचाईयों को छुआ उतनी ऊॅंचाई कोई नहीं छू सकता है। उन्होंने कहा कि उनकी मृत्यु के बाद उनके लिए परीक्षा का समय है। जम्मू - कश्मीर में सरकार बनाने की कवायद को लेकर उन्होंने कहा कि सरकार तो प्रतिष्ठा पर ही बनती है। सरकार के गठन के लिए घटक दल से आश्वासन मिलने की बात भी उन्होंने कही। उन्होंने पिता की मृत्यु को होने वाले नुकसान को लेकर कहा कि उनकी मृत्यु के बाद उनकी परीक्षा का समय है।