झाबुआ ब्लास्ट को लेकर NIA और IB हुए सक्रिय

झाबुआ : झाबुआ में पेटलावद में शनिवार को हुए दिल दहला देने वाले हादसे ने सभी को मुश्किल में डाल दिया। विस्फोट से जहां लोग सामान समेत यहां वहां उड़ गए वहीं आगजनी और लोगों के हताहत होने से अफरा-तफरी मच गई। ऐसा लगा जैसे कोई बड़ा बम फटा हो। अचानक मध्यप्रदेश के इस स्थल पर देशभर की नज़रें टिक गईं। अब जब इस पर नज़र दौड़ाई जा रही है तो इस हादसे में मरने वालों का आंकड़ा करीब 88 पर पहुंच गया है।

यही नहीं करीब 200 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। अधिकांश लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। धमाकों से लोग हैरान हो उठे। यही नहीं लोगों की भीड़ क्षेत्र में जमा हो गई। इसके कुछ समय बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई। पहले क्षेत्र के एक होटल में एलपीजी सिलेंडर फटने से अफरा-तफरी मच गई वहीं बाद में यह जानकारी सामने आई कि जिलेटिन की छड़े एक दुकान पर अवैधरूप से रखी थीं जिनमें आग लग गई।

इस मामले में एनआईए का दल जांच के लिए क्षेत्र का दौरा कर सकता है। मामले में आईबी मप्र पुलिस से जानकारी प्राप्त कर रही है। इस विस्फोट को लेकर किसी साजिश की आशंका को तलाशा जा रहा है। फिलहाल इस मामले में स्पष्टतौर पर कुछ भी नहीं कहा गया है। प्रातः 8 बजकर 20 मिनट पर एक अन्य धमाका हुआ। दरअसल इस धमाके की चिंगारी समीप ही यूरिया के गोदाम के संपर्क में आई और यहां रखे डेटोनेटर और जिलेटिन की छड़ों में धमाका हो गया। सेठिया रेस्टोरेंट हादसे वाले स्थान से कुछ दूरी पर था। यहां नाश्ता करने आए स्कूली बच्चे भी चपेट में आ गए। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -