सरसों के बीज करते है अस्थमा से बचाव

सरसों के बीज करते है अस्थमा से बचाव

सरसों के बीजों का उपयोग मसाले के रूप में किया जाता है. इससे बनी चटनी बहुत स्वादिष्ट होती है. स्वाद लाभ के अलावा आसानी से उपलब्धता और त्वचा, बालों और स्वास्थ्य के लिए सरसों के बीज के अद्भुत फायदे हैं. ऐसे ही कुछ लाभों को उल्लेख यहां किया गया है. 

1-सरसों के बीज में ग्लूकोसाइनोलेट्स जैसे यौगिक की उपस्थिति कैंसर कोशिकाओं के विकास को बाधित करने के लिए फाइटोकेमिकल्स उपयोग करने के लिए जाना जाते है. यह निश्चित रूप से सरसों के बीज एक बड़ा स्वास्थ्य लाभ है. 

2-सरसों के बीज में मौजूद मैग्नीशियम माइग्रेन की समस्या को कम करने में मदद करता है. मछली में सरसों के बीज का  हल्का सा स्पर्श ओमेगा-3 फैटी एसिड को बढ़ावा देने में मदद करता है

3-सरसों के बीज आहार फाइबर का अच्छा स्रोत हैं, जो शरीर में पाचन में सुधार करता है. जिससे मल त्याग बेहतर बनता है और शरीर के समग्र चयापचय में सुधार होता है. इसमें मौजूद फाइबर बहुत आसानी से घुलनशील होता है जो ज्यादातर उपयोग  के लिए इसे प्रभावी बनाता है.

4-सरसों के बीज अस्थमा के रोगियों के लिए फायदेमंद माने जाते हैं. इसमें आयरन, मैग्नीशियम, कॉपर और सेलेनियम जैसे मिनरल की उपस्थिति अस्थमा के हमलों को रोकने में मदद करते हैं.

यह तेल लायेगा आपकी खूबसूरती में निखार