माँ के फोन ने बचाई इंजीनियर की जान, जानिए पूरा किस्सा
माँ के फोन ने बचाई इंजीनियर की जान, जानिए पूरा किस्सा
Share:

बेंगलुरु: कर्नाटक के बेंगलुरु में शुक्रवार (1 मार्च 2024) को बम धमाका हुआ। रामेश्वरम कैफे में हुए इस धमाके में एक महिला समेत 10 लोग चोटिल हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एक संदिग्ध को पुलिस ने गिरफ्त में लिया है। उससे पूछताछ जारी है। संदिग्ध हमलावर की हिरासत उस फुटेज के पश्चात् की गई है, जिसमें वो कैफे में रवा इडली का ऑर्डर करने के पश्चात् विस्फोटक रख कर बाहर चला गया था। धमाके को टाइमर डिवाइस द्वारा एक्टिवेट किए जाने की आशंका है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ UAPA एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। अब घटना के कुछ चश्मदीद सामने आए हैं, जिन्होंने अपनी आपबीती बताई है।

इस घटना के कई चश्मदीद सामने आए हैं। धमाके के वक़्त मूलतः पटना के रहने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर अलंकृत कैफे में ही उपस्थित थे। ब्लास्ट का पहला वीडियो सोशल मीडिया पर उन्होंने ही शेयर किया था। अलंकृत का दावा है कि उन्होंने कम से कम 15 व्यक्तियों को चोटिल अवस्था में देखा था, जिसमें से कइयों के कानों से खून निकल रहा था। कुछ जले लोगों का भी जिक्र करते हुए 24 वर्षीय अलंकृत ने बताया कि इतना खतरनाक मंजर उन्होंने पहले कभी नहीं देखा था। अलंकृत ने आगे बताया कि घटना के ठीक पहले उनकी माँ की कॉल आ गई थी तथा वो बात करने बाहर निकल गए थे। इसी के चलते कैफे में तेज धमाका हो गया। 

वही विस्फोट के पश्चात् चीख-पुकार और भगदड़ मचने का दावा करते हुए अलंकृत ने कहा कि उन्होंने एक महिला के कपड़े पीछे से फ़टे देखे। किचन से बहुत धुँआ निकल रहा था तथा काफी बुजुर्ग 2 महिलाओं का खून निकल रहा था, जिस पर लोग पट्टी बाँध रहे थे। अलंकृत ने अपनी माँ को भगवान बताते हुए उनकी कॉल की ही वजह से स्वयं को सुरक्षित बताया। एक अन्य चश्मदीद नागराज ने बताया कि धमाके की जोरदार आवाज हुई। तब धुएँ से रामेश्वरम कैफे का बोर्ड भी दिखना बंद हो गया था। नागराज ने चोटिल व्यक्तियों को ऑटो में बिठा कर हॉस्पिटल पहुँचाने में मदद की थी। एक अन्य चश्मदीद मंजूनाथ ने बताया कि धमाका वाश बेशिन के पास हुआ। एक महिला को बहुत खून बह रहा था, तब उन्हें प्राइवेट वाहन में बिठा कर हॉस्पिटल ले जाया गया था।

Google का बड़ा एक्शन, शादी डॉट कॉम से लेकर नौकरी डॉट कॉम समेत ये ऐप प्ले स्टोर से हटाए

पीएम मोदी का India पर हमला, कहा- 'गांधी जी के तीन बंदरों की तरह...'

बिहार में RJD को एक और बड़ा झटका, 7 विधायकों ने छोड़ा साथ

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -