अब दाऊद के खात्मे के दिन दूर नही, सरकार ने लिया कड़ा एक्शन, UAE ने सील की संपत्ति

नई दिल्ली : 12 मार्च 1993 को मुम्बई बम विस्फोट के बाद देश से फरार होकर पाकिस्तान में पनाह लेने वाले भारत के मोस्ट वॉन्टेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को भारत लाने के लिए केंद्र सरकार पुरजोर कोशिश कर रही है. इसी कड़ी में भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल ने दाऊद के खिलाफ संयुक्त अरब अमीरातआ(यूएई ) सरकार को एक डोजियर सौंपा था.जिस पर कार्रवाई करते हुए यूएई ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की दुबई स्थित सभी संपत्ति को सील कर दिया है. इसमें कई कंपनियां, होटल और अन्य संपत्तियां शामिल हैं.

मिली जानकारी के अनुसार डॉन दाऊद इब्राहिम पर शिकंजा कसने के लिए भारत के खुफिया अधिकारियों की एक विशेष टीम काम कर रही है. इस टीम में 50 से अधिक योग्य अधिकारी हैं. इसमें खुफिया विभाग के साथ सीबीआई, रॉ, ईडी, आयकर विभाग, FIU और इंटरपोल विंग के अधिकारी शामिल हैं. यह टीम दाऊद के हर हरकत पर नजर रखती है.

सूत्रों से पता चला है कि पाकिस्तान के कराची शहर में दाऊद शेख हनीफ मर्चेन्ट के नाम से जाना जाता है. दाऊद का परिवार कड़ी सुरक्षा के बीच कराची में रहता है.बीमारी की वजह से दाऊद कराची से बाहर कहीं आना-जाना नहीं करता है. कराची में भी दाऊद और उसका पूरा परिवार बुलेट प्रूफ गाड़ी में चलते हैं. दाऊद के सभी फोन कॉल्स एवं दाऊद इब्राहिम के हर संदेश को लोगों तक पहुंचाने का काम मेहजबीन ही करती है बता दें कि मेहजबीन शेख कराची के DC13, Block-4, KDA, SCH-5 में रहती हैं.

 उधर मंगलवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत सरकार डॉन दाऊद इब्राहिम को भारत लाने का प्रयास कर रही है,हम दाऊद को लाकर रहेंगे. भारत के पास यह साबित करने के लिए पुख्ता खुफिया जानकारी है कि दाऊद पाकिस्तान में ही हैं. 

भारत-यूएई करेंगे सामरिक भागीदारी 

"मोदी,डोभाल और बिपिन रावत,ऊपर से..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -