कीबोर्ड ऍप Swiftkey अब हो गया माइक्रोसॉफ्ट का

कीबोर्ड ऍप Swiftkey अब हो गया माइक्रोसॉफ्ट का

माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी ने लन्दन के बेस्ट पॉपुलर कीबोर्ड ऍप Swiftkey को खरीद लिया है. कम्पनी इसे अपने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस डेवलपमेंट में इस्तेमाल करेगी. माइक्रोसॉफ्ट ने इसे 250 मिलियन डॉलर में ख़रीदा है. इस डील से Swiftkey के फाउंडर को 30 मिलियन डॉलर का फायदा हुआ है. माइक्रोसॉफ्ट की टीम के साथ अब Swiftkey के कर्मचारी भी काम करेंगे. माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी आने वाले दिनों में Swiftkey को विंडोज वर्ड फ्लो कीबोर्ड शामिल करेगी.

Swiftkey का ऍप एंड्राइड और IOS यूजर्स के लिए आगे भी उपलब्ध कराये जायेंगे. इस ऍप का इस्तेमाल दुनिया भर में 300 मिलियन से भी ज्यादा यूजर्स इस्तेमाल करते है. इस ऍप को विंडोज फोन के लिए उपलब्ध नही कराया जायेगा.

जिन यूजर्स को यह नही पता है कि इस ऍप से क्या होता है तो उन्हें बता दे कि इस ऍप से आपके टाइप करने का पैटर्न नोट किया जा सकता है. चैटिंग को खास बनाने के लिए इस ऍप में और भी बहुत से फीचर दिए गए है.