कोरोना काल में ये शख्स कर रहा है संक्रमित डेडबॉडी का अंतिम संस्कार

कोरोना वॉरियर्स ये वो लोग है जिन्होंने इस बुरे हालात को मजबूती से संभाले हुए रखा है. कोरोना वारियर्स वो लोग, या कहें वो योद्धा लोग जो कोरोना से सीधे-सीधे लड़ रहे हैं. मसलन डॉक्टर्स, नर्सें, पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी इनके साथ ही एक और नाम जुड़ गया है विष्णु. जी हां, विष्णु, वो जयपुर के रहने वाले हैं. उनका नाम कोरोना वॉरियर्स के साथ इसलिए जोड़ा गया क्योंकि वो कोरोना से संक्रमित डेडबॉडी का अंतिम संस्कार करते हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जयपुर के रहने वाले विष्णु के साथ उनकी पूरी टीम है. वो सब लोग मिलकर कोरोना के संक्रमण से होने वाली मौतों की डेडबॉडी का अंतिम संस्कार करते हैं. वे लोग ना तो धर्म देखते हैं, ना ही किसी शख्स की जाति. यहां तक कि उन्होंने 15 से ज्यादा मुस्लिमों के शव को दफनाया भी है. इतना ही नहीं, 53 शवों का अंतिम संस्कार भी किया है।

इस बारें में विष्णु कहते हैं कि शवों का अंतिम संस्कार करना सबसे बड़ा भार भी है और धर्म भी है. वो बताते हैं कि कोरोना वायरस से पहले वो कभी कब्रिस्तान तक नहीं गए थे. पर अब वो और उनकी टीम कब्र खुदवाती है. वो कब्रिस्तान जाते हैं. यहां तक कि उसमें उतरकर शव को आखिरी मिट्टी भी देते हैं. विष्णु की पूरी टीम कुल मिलाकर 68 लोगों का अंतिम संस्कार कर चुकी है. वो कहते हैं, ‘इस वक्त हालात ये हो गई है कि लोग मुर्दाघर में अपने मृतकों की अस्थियां लेने भी नहीं आ रहे. हमारी टीम रोज ईश्वर से यही प्रार्थना करती है कि अब इस तरह किसी का अंतिम संस्कार ना ही करना पड़े. जिस दिन ऐसा होता है यानी कोरोना के कारण एक भी मौत नहीं होती है, उस दिन हम लोगों को बहुत खुशी होती है।’ सलाम है विष्णु जी को. 

फिर से खोज निकाली ये दुर्लभ मधुमक्खी, पिछले चार सालों से थी गायब

ये शख्स है दुनिया का सबसे बड़ा 'जुआरी', जिसने पोकर खेलकर कमाए अरबों रुपये

लॉकडाउन : घर में ही दादा ने पोते के लिए ऐसे बना दिया रोलर कोस्टर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -