मुस्लिम महिलाओं के 'ब्यूटी पार्लर' जाने को लेकर मौलवी असद कासमी ने दिया बड़ा बयान
मुस्लिम महिलाओं के 'ब्यूटी पार्लर' जाने को लेकर मौलवी असद कासमी ने दिया बड़ा बयान
Share:

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में एक मौलवी ने आज शुक्रवार (17 नवंबर) को एक ऐसा बयान दिया है, जिसपर विवाद हो सकता है। दरअसल, मौलवी ने कहा है कि, मुस्लिम महिलाओं को उन ब्यूटी पार्लरों में जाने से बचना चाहिए जहां पुरुष कार्यरत हैं। उन्होंने महिलाओं के लिए ऐसे पार्लरों में मेकअप करवाने को 'वर्जित' और 'गैरकानूनी' करार दिया है।

मुफ्ती असद कासमी ने ये विचित्र टिप्पणी करते हुए मुस्लिम महिलाओं को उन ब्यूटी पार्लरों में जाने से परहेज करने की सलाह दी, जहां पुरुष कार्यरत हैं, इसके बजाय ऐसे सैलून का चयन करें जहां केवल महिलाएं काम करती हैं। पिछले महीने, कानपुर की एक महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके पति ने सऊदी अरब से फोन पर उसे तीन तलाक दे दिया, जब उसे पता चला कि उसकी भौंहें सही आकार में हैं। महिला ने पुलिस को बताया कि उसका पति "पुराने जमाने का" था और उसने उसके फैशन विकल्पों पर आपत्ति जताई थी।

दरअसल, गुलसैबा ने कहा कि उनके पति ने एक वीडियो कॉल शुरू की, जिसके दौरान उन्होंने उनकी नई आकार की भौहें देखीं। उसने उससे इस बारे में सवाल किया, और उसके स्पष्टीकरण के बावजूद कि उसने अपनी भौहें इसलिए बनवाईं क्योंकि उसे लगा कि अनियंत्रित बालों के साथ उसका चेहरा अच्छा नहीं दिखता, वह क्रोधित हो गया और वीडियो कॉल पर तीन बार तलाक बोल दिया। बता दें कि, कई मुस्लिम धर्मगुरु महिलाओं के ब्यूटी पार्लर जाने और मेकअप आदि करने और लड़के-लड़की के एकसाथ पढ़ने का भी विरोध करते हैं, वो इसे इस्लाम के खिलाफ बताते हैं। तालिबान ने तो शरिया कानून के मुताबिक अफगानिस्तान में तमाम ब्यूटी पार्लर और संगीत पर प्रतिबंध लगा दिया है। 

हालाँकि, गौर करने वाली बात ये भी है कि, एक तरफ मौलवी, मुस्लिम लड़कियों की सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्हें पुरुष कर्मचारियों वाले ब्यूटी पार्लर में जाने से मना कर रहे हैं। वहीं, जब यही बात हिन्दू समुदाय के लोग अपनी बच्चियों से कहते हैं कि, लड़कियां किसी लड़कों से मेहँदी न लगवाए,  जब मुस्लिम लड़के हिन्दू देवी-देवता को नहीं मानते, तो उन्हें गरबा आयोजनों में भी न आने दिया जाए, तो ऐसा कहने वाले हिंदुओं को सांप्रदायिक करार दे दिया जाता है। लेकिन, वे भी तो ये सब बातें अपनी बच्चियों की सुरक्षा के लिए ही कहते हैं। तो आखिर लड़कियों की सुरक्षा के मामले में ये दोहरापन क्यों ?    

'वोटरों को लुभाने के लिए शराब और नोट बांटे जा रहे, मेरे पास Video..', वोटिंग के बीच शिवराज पर कमलनाथ का आरोप, सबूत होने का दावा

पाकिस्तान: लश्कर के आतंकी मोहम्मद मुज़मिल को साथी सहित ठोंक गए अज्ञात हमलावर, 2023 में विदेशी धरती पर 18 भारत विरोधी आतंकी ढेर

'अब समय आ गया है कि..', इजराइल-हमास युद्ध को लेकर पीएम मोदी ने वैश्विक नेताओं के सामने दिया बड़ा बयान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -