मारूति के संग घर आ गया अपना हिंदुस्तां

मारूति के संग घर आ गया अपना हिंदुस्तां
style="text-align: justify;">नई दिल्ली : मीडिल क्लास के लिए सबसे पहले कार लाॅंच करने वाली मारूति सुजुकी इंडिया का प्रभाव आज भी बाजार पर कायम है। आज भी बड़े पैमाने पर लोगों को पहली पसंद मारूति की लक्ज़रीयस कारें बनी हुई हैं। ऐसे में लोग मारूति के विज्ञापन में उपयोग किए जाने वाले जिंगल मंज़ीलें नज़दीक हैं पैरों तले हैं रास्ते घर आ गया है अपना हिंदुस्तां को याद कर रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2014-15 में सर्वाधिक बिकने वाले माॅडलों में आॅल्टो, स्विफ्ट, डिजायर और वेगन आर प्रमुख रहीं। मारूति की ही कारों का इस श्रेणी में जोर रहा। दूसरी ओर वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम द्वारा इस मामले में आंकड़े जारी किए गए।
 
जिसमें मारूती को ही सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों की रेस में सबसे आगे पाया गया। इस श्रेणी में मारूति की बिक्री करीब 264492 रह। इस श्रेणी में आॅल्टो के बाद स्विफ्ट दूसरे स्थान पर रही। मारूति की काॅम्पैक्ट सेडान - डिजायर रही। डिजायर कार की बिक्री भी अच्छी मानी गई। वर्ष 2014 - 15 के बीच ग्रांड आई - 10 की बिक्री 99088 रही। कारों के मार्केट में मारूति का दबदबा बना हुआ है। दरअसल कारों के मामले में मारूति आज भी मीडिल क्लास की पहली पसंद बनी हुई है। मारूति के आगे भी भारती बाजार में शानदार परफाॅर्मेंस की उम्मीदें जताई जा रही हैं।