धोनी ने चौथे वनडे में हार के लिए खुद को ठहराया जिम्मेदार, कहा ' गुस्सा नहीं, निराश हूं'

Jan 21 2016 11:17 AM
धोनी ने चौथे वनडे में हार के लिए खुद को ठहराया जिम्मेदार, कहा ' गुस्सा नहीं, निराश हूं'

कैनबरा : भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार को चौथे वनडे में जीत के करीब पहुंचकर हारने के बाद धोनी की हताशा साफ़ देखने को मिली. उन्होंने मैच के बाद कहा कि वह इस परिणाम से गुस्सा नहीं बल्कि निराश हूँ. भारतीय टीम को इस मैच में 25 रन से उसे शिकस्त झेलनी पड़ी थी. पांच मैचों की सीरीज में 0-4 से पिछडऩे के बाद कप्तान धोनी ने कहा कि मैं गुस्सा नहीं हूं बल्कि निराश हूं. यह एक ऐसा मैच था जिसे हम जीत सकते थे.

हमें थोड़ी और अच्छी बल्लेबाजी करनी चाहिए थी. निराश धोनी ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए कहा, मैं हार की जिम्मेदारी लेता हूं. मुझे देर तक टिककर बल्लेबाजी करनी चाहिए थे लेकिन मैं शून्य पर आउट हो गया.

धोनी ने कहा, मेरे आउट होने से टीम दबाव में आ गई. लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट दबाव का खेल है. आप सही शाट के बारे में सोचते हैं. यहां देर तक रूककर धीरे धीरे मैच को अंत तक लक्ष्य तक ले जाना होता है. उन्होने कहा कि शिखर और रोहित ने शानदार बल्लेबाजी की. इसके बाद धवन और विराट ने हमें जीत के करीब पहुचा दिया था . लेकिन हमने उनकी मेहनत पर पानी फेर दिया.

गेंदबाजी पर जताई निराशा -

कप्तान ने एक बार फिर गेंदबाजों के प्रदर्शन पर निराशा जताई. उन्होंने कहा, पिछले 5 सालों में हमारे पास स्पिनरों के अलावा एक तय गेंदबाजी क्रम नहीं रहा है.

आप को बता दें कि भारत इस वनडे में ऑस्ट्रेलिया के 348 के स्कोर का पीछा करते हुए एक समय एक विकेट पर 277 रन बनाकर मजबूत स्थिति में था लेकिन फिर उसने 46 रन के अंतराल में अपने बाकी 9 विकेट खो दिए और 25 रन से यह मैच गवा दिया . वनडे सीरीज का पांचवां और आखिरी वनडे 23 जनवरी को सिडनी में खेला जाएगा.