CM उद्धव पर हुआ 'ट्रिपल अटैक', बढ़ी मुश्किलें

मुंबई: महाराष्ट्र के राजनीतिक संकट में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। शिंदे गुट के विधायकों ने उनको घेरने की पूरी तैयार कर ली है। दरअसल, एकनाथ शिंदे गुट के निर्दलीय MLA आज( मंगलवार) राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से भेंट कर सकते हैं। इन विधायकों की राज्यपाल से भेंट कब होगी, ये अभी तय नहीं है। 

वही इस बीच, गुवाहाटी में डेरा डाले हुए शिवसेना के बागी MLA एकनाथ शिंदे आज महाराष्ट्र लौट सकते हैं। वह राज्यपाल से मिलकर ठाकरे सरकार से समर्थन वापसी का पत्र सौंप सकते हैं। दूसरी तरफ महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उद्धव ठाकरे के फैसलों की खबर मांगी है। राज्यपाल के प्रमुख सचिव संतोष कुमार ने कहा कि राज्यपाल ने प्रदेश के मुख्य सचिव को चिट्ठी लिखकर 22-24 जून तक राज्य सरकार द्वारा जारी सभी सरकारी प्रस्तावों (जीआर) एवं परिपत्रों की पूरी जानकारी प्रदान करने के लिए बोला है। जानकारी देने का निर्देश सत्ताधारी सहयोगी NCP तथा कांग्रेस द्वारा नियंत्रित विभागों द्वारा 22-24 जून तक विभिन्न विकास संबंधी कार्यों के लिए सैकड़ों करोड़ रुपये की धनराशि जारी करने के सरकारी आदेश जारी करने के बाद आया है। पत्र के मुताबिक, 'राज्यपाल ने 22-24 जून को राज्य सरकार द्वारा जारी जीआर, परिपत्रों के बारे में 'पूरी पृष्ठभूमि की जानकारी' देने को कहा है...'

वही महाराष्ट्र में मचे राजनीतिक घमासान में सीएम उद्धव ठाकरे भी एक्शन में हैं। उन्होंने गुवाहाटी के होटल में रुके हुए 9 बागी मंत्रियों के विभाग सोमवार को छीन लिए। शिवसेना के वरिष्ठ नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में महा विकास आघाड़ी (MVA) सरकार के खिलाफ आरम्भ हुई बगावत को एक सप्ताह हो रहा है। उनका 36 से अधिक विधायकों के समर्थन का दावा है। दोनों ही पक्ष अपने रुख पर अड़े हुए हैं तथा लंबी लड़ाई के लिये तैयार नजर आ रहे हैं। 

'कांग्रेस जितनी जल्दी खत्म हो जाए, लोकतंत्र के लिए उतना अच्छा...' ओवैसी ने दिया बड़ा बयान

गुजरात दंगा: हिंसा पीड़ितों के नाम पर फंड जुटाकर खुद खा गई तीस्ता सीतलवाड़, करीबी ने किया खुलासा

ED के समन के बाद भी पेश नहीं होंगे संजय राउत, कहा था - मुझे गिरफ्तार करो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -