जानिए नई संसद में पहली बार और क्या-क्या बोली राष्ट्रपति मुर्मू
जानिए नई संसद में पहली बार और क्या-क्या बोली राष्ट्रपति मुर्मू
Share:

नई दिल्ली: संसद के बजट सत्र का आज यानी बुधवार (31 जनवरी) से आगाज हो चुका है, जो 9 फरवरी तक जारी रहने वाला है. मोदी गवर्नमेंट के दूसरे कार्यकाल का यह अंतिम अंतरिम बजट है, जिसे कल यानी 1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करने वाली है. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु के अभिभाषण के साथ ही संसद का अंतरिम बजट सत्र शुरू किया गया. नए संसद में अपने पहले अभिभाषण में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने बोला है कि नए संसद भवन में यह मेरा पहला संबोधन है. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नए संसद भवन में पहला संबोधन देते हुए यह  भी कहा है  कि यहां ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की महक है.  विश्वभर में गंभीर संकटों के मध्य भारत सबसे तेजी से विकसित हो रही अर्थव्यवस्था है और निरंतर पिछली 2 तिमाही में देश की विकास दर साढ़े प्रतिशत रही. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने मीडिया को संबोधित किया था और हंगामा करने वाले सांसदों को नसीहत भी दे दी थी. तो चलिए जानते हैं राष्ट्रपति के अभिभाषण की खास बातें.

1. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अपने भाषण में बोला है कि ‘आज दुनिया के कुल रियल टाइम डिजिटल लेनदेन का 46 प्रतिशत भारत में होता है. बीते माह UPI से रिकॉर्ड 1200 करोड़ ट्रांजेक्शन भी किए गए है. इसके अंतर्गत 18 लाख करोड़ रुपए का रिकॉर्ड लेनदेन हुआ है. देश में पहले मुद्रास्फीति की दर दहाई अंकों में रहा करती थी जो अब 4 प्रतिशत है.’

2. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अपनी बात को जारी रखते कहा है कि, ‘विकसित भारत की भव्य इमारत चार स्तंभों- युवा शक्ति, नारी शक्ति, किसान और गरीब पर खड़ी हुई है, इन 4 स्तंभों को सशक्त करने के लिए गवर्नमेंट निरंतर काम कर रही है. बीते सालों में विश्व ने दो बड़े युद्ध देखे और कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से भी लड़ाई लड़ी. ऐसे वैश्विक संकटों के बावजूद मेरी सरकार ने देश में महंगाई को काबू में रखा, सामान्य भारतीय का बोझ नहीं बढ़ने दिया.’

3. राष्ट्रपति ने इस बारें में बोला है कि मेरी सरकार ने उज्ज्वला योजना पर 2.5 लाख करोड़ रुपए खर्च किए हैं. गरीबों को सस्ता राशन देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपए खर्च कर दिए है. आयुष्मान योजना से मुफ्त उपचार दिया जा रहा है. 11 करोड़ घरों को पहली बार नल से जल योजना से जोड़ दिया गया. किडनी मरीजों के डायलिसिस की सुविधा दी है. LED बल्ब से बिजली के बिल में बचत लाने का प्रयास किया गया है. योजनाओं को तेजी से पूरा करने का लक्ष्य रखा है. बीते वर्ष विश्व ने दो बड़े युद्ध देखे. वैश्विक संकट के बावजूद देश में महंगाई नहीं बढ़ने दी है. गरीबों और मध्यम वर्ग को सस्ते में हवाई टिकट मिल रहे हैं.

4. राष्ट्रपति मुर्मू ने बोला है कि आज देश में शत प्रतिशत संस्थागत प्रसव हो रहे हैं और इस वजह से मातृ मृत्यु दर में भारी गिरावटदेखने के लिए मिली है, साथ ही उज्ज्वला योजना का लाभ लेने वाले गरीब परिवारों में बीमारी की घटनाओं में कमी आयी है. उन्होंने अपनी बात को जारी रखते हुए बोला है  कि कर के एक बड़े हिस्से का उपयोग युवाओं, महिलाओं, किसानों एवं गरीबों को सशक्त बनाने के लिए किया जा रहा है.

'पीएम मोदी और भारत के लोगों से माफ़ी मांगो..', अपने ही घर में घिरे राष्ट्रपति मुइज्जू, मालदीव में विपक्ष ने उठाई मांग

चोट के बाद NCA पहुंचे रवींद्र जडेजा, इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में नहीं खेलेंगे

'पड़ोसियों को एक-दूसरे की जरूरत पड़ती है..', मालदीव से विवाद के बीच बोले विदेश मंत्री जयशंकर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -