जानिए आटे में मिलावट है या नहीं

गेंहू का आटे में विटामिन बी 1 , बी 3 और बी 5 में समृद्ध है और बहुत से फाइबर होते है. गेंहू का आटा कम ग्लिसेमिक सूचकांक है, इस लिहाजसे यह डाइबिटीज वाले लोगो के लिए आदर्श है. अनाज सहित बाजार में हर चीज में मिलावट होने लगी है, इस कारण से गेंहू के आटे का शुद्धतम रूप पहचानना मुश्किल हो जाता है.

गेंहू के आटे में अक्सर बोरिक पाउडर, चाक पाउडर और कभी कभी मैदा से पतला होता है. आटे में मिलावट की जांच कर सकते है. गेंहू के आटे में अक्सर कंकड़, धूल, खरपतवार बीज और क्षतिग्रस्त अनाज के साथ मिला दिए जाते है. मिलावट जांचने के लिए एक गिलास पानी में कुछ आटे को छिड़क सकते है और जांच कर सकते है कि चोटी पर शीर्ष पर तैरता है या नहीं. गेंहू के आटे में चाक पाउडर मिला कर मिलावट कर दी जाती है.

एक टेस्ट ट्यूब में अनाज के नमूने में कुछ पतला हाइड्रोक्लोरिक एसिड जोड़ कर चाक पाउडर की उपस्थिति की जांच कर सकते है. यदि इसमें कुछ छानने वाली चीज है तो समझ लीजिए कि इसमें पाउडर मौजूद है.

ये भी पढ़े

कब्ज और गैस की समस्या से राहत पाने के लिए करे ये उपाय

मधुमक्खी के काटने पर करें ये उपाय

अगर आप भी जरूरत से ज्यादा खेलते है वीडियो गेम तो पढ़ ले ये बातें

न्यूज़ ट्रैक पर हम लिखते है आपके लिए कुछ मज़ेदार और फ्रेश फैशन, ब्यूटी, हेल्थ, फिटनेस से जुडी ज्ञानवर्धक बातें जो आपको रखेगी स्वस्थ और तंदुरस्त

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -