मसरत की गिरफ्तारी पर कश्मीर बंद का एलान, फायरिंग में एक की मौत

Apr 18 2015 07:53 PM
मसरत की गिरफ्तारी पर कश्मीर बंद का एलान, फायरिंग में एक की मौत
style="text-align: justify;">श्रीनगर : बीते दिनों कश्मीर में मचे राजनीतिक बवाल और अलगाववादी नेता मसरत आलम को गिरफ्तार करने के विरोध में विरोध के स्वर तेज हो गए हैं। मामले को लेकर अलगाववादी हिंसक प्रदर्शन पर आमादा हो गए हैं। यही नहीं इन नेताओं ने कश्मीर बंद का ऐलान कर दिया है। जिससे राज्य के हालात बिगड़ गए हैं। अलगाववादियों को रोकने के लिए की गई फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हो गई। 

पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने वाले अलगाववादी नेता मसरत आलम को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया गया मगर मसरत की गिरफ्तारी के बाद राज्य के हालात बिगड़ गए। मामले को लेकर अलगाववादी घाटी में सक्रिय हो गए और उन्होंने कश्मीर बंद की घोषणा कर दी। यही नहीं अलगाववादियों ने जमकर उत्पात मचाया और पत्थरबाजी शुरू कर दी। जिसे रोकने के लिए पुलिस और सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाला। इस दौरान झड़पों में 24 लोग घायल हो गए। हालात को काबू करने के लिए सुरक्षाबलों को गोलियां चलाना पड़ी। जिससे एक व्यक्ति की मौत हो गई। 

उल्लेखनीय है कि जम्मू - कश्मीर में अलगाववादी नेता मसरत आलम ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर पाकिस्तान का झंडा फहराया और पाकिस्तान के समर्थन में आतंकी हाफिज सईद का पैगाम लोगों के बीच दोहराया। जिससे लोगों की भावनाऐं भड़क उठीं। इस मसले पर हुए हंगामे के बाद राज्य सरकार ने आलम को गिरफ्तार कर लिया। उल्लेखनीय है कि हाफिज सईद को मुंबई में हुए 26/11 आतंकी हमले का मास्टर माईंड कहा जाता है और भारत इस आतंकी को पाकिस्तान से मांग रहा है। मगर पाकिस्तान हर बार इस आतंकी पर अपने देश में मुकदमा चलाने की नाटकीय कार्रवाई कर भारत को टाल देता है।