Share:
प्रिंसिपल पर लगा प्रशिक्षु की बेल्ट से निर्मम पिटाई का आरोप, जांच में लगी पुलिस
प्रिंसिपल पर लगा प्रशिक्षु की बेल्ट से निर्मम पिटाई का आरोप, जांच में लगी पुलिस

आजकल आ रहे अपराध के किस्से सभी को हैरान करने वाले हैं. ऐसे में जो मामला हाल ही में सामने आया है वह हमीरपुर जिले की एक सरकारी आईटीआई का है जहाँ के प्रिंसिपल पर संस्थान के प्रशिक्षु की बेल्ट से निर्मम पिटाई करने का आरोप लगाया गया है. इस मामले में पीड़ित छात्र ने प्रधानाचार्य के खिलाफ शिकायत हमीरपुर पुलिस थाने में दर्ज करवा दी है.

वहीं पुलिस ने डॉ. राधाकृष्णन राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं हमीरपुर अस्पताल में पीड़ित छात्र का मेडिकल भी करवा लिया है और मेडिकल के बाद पुलिस ने इस मामले को दूसरे पुलिस थाने में ट्रांसफर कर दिया है जहाँ की पुलिस ने पीड़ित छात्र के बयान लेकर जांच शुरू कर दी है. मिली खबर के मुताबिक पीड़ित छात्र ने अपनी शिकायत में यह कहा कि, ''वह मोटर मेकेनिक ट्रेड का प्रशिक्षु है. उसने होमवर्क पूरा नहीं किया था. इस पर शिक्षक ने संस्थान के प्रधानाचार्य को इस बारे में बताया. इससे प्रधानाचार्य भड़क गए. प्रशिक्षु छात्र का आरोप है कि प्रधानाचार्य ने उसे अन्य छात्रों के सामने फर्श पर लिटाकर बेल्ट से बुरी तरह पीटा है. पिटाई के चलते ठंड के मौसम में पूरा बदन दर्द कर रहा है.''

इस मामले में पीड़ित ने पुुलिस से आरोपी प्रधानाचार्य के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है और पुलिस का कहना है वह उचित कार्यवाही करेंगे. इस मामले में आईटीआई के प्रधानाचार्य ने सभी आरोपों को निराधार बताया है और उनका कहना है कि, ''मोटर मेकेनिक ट्रेड का प्रशिक्षु पढ़ने में लापरवाह है. न तो क्लास में आता है और न ही होमवर्क करता है. टीचर की शिकायत पर उससे पूछताछ की गई थी, लेकिन पिटाई नहीं की.'' अब इस मामले की छानबीन में पुलिस लगी हुई है.

बिहार: बिस्किट लेने गई मासूम के साथ दुकानदार ने की छेड़छाड़, पॉस्को एक्ट के तहत दर्ज हुआ मामला

कोटा में युवती का अपहरण के बाद रेप, फिर जबरदस्ती बना दिया मुस्लिम और....

5 दिनों से बाप की लाश के साथ सो रहा था बेटा, आधा गल चुका था शव

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -