मधुमेह से होने वाले दुष्प्रभाव को कम करती है यह दवा

शोधकर्ताओं द्वारा विकसित की गई नई प्रायोगिक दवा मधुमेह दवा के कारण होने वाले कुछ खतरनाक दुष्प्रभावों को कम करने में मदद कर सकती है. प्रारंभिक तौर पर जानवरों पर किए गए परीक्षण से पता चलता है कि टाइप 2 मधुमेह में रक्त शर्करा के स्तर को विनियमित करने में नोवल कॉमबिनेशन इलाज सुरक्षित और प्रभावी है.

जानकारी के लिए बता दें कि Rosiglitazone को पहली बार 1999 में FDA द्वारा मानव उपयोग के लिए अनुमति प्राप्त हुई थी. यह निश्चित रूप से टाइप 2 मधुमेह रोगियों के लिए एक उपचार के रूप में प्रभावी था, हालांकि कई प्रतिकूल प्रभावों के अलावा कुछ दुष्प्रभाव ने चिंताएं पैदा कर दी. जिसमें दिल का दौरा, ऑस्टियोपोरोसिस, वजन बढ़ना जैसे दुष्प्रभाव शामिल है. 

इसके अलावा 2010 तक यह स्पष्ट था कि rosiglitazone मुसीबत में है. ड्रग बनाने वाली कंपनी ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन को कई सिविल मुकदमों का सामना करना पड़ा, और आखिरकार अमेरिकी सरकार द्वारा अध्ययन के आंकड़ों को वापस लेने का दोषी पाया गया, जो सुझाव देते थे कि दवा दिल के दौरे के जोखिम को बढ़ा सकती है. तब से, दवा को कई अंतरराष्ट्रीय बाजारों से वापस ले लिया गया है, हालांकि यह अभी भी संयुक्त राज्य में उपयोग के लिए उपलब्ध है.

सेहत को बड़े फायदे पहुंचाती है काली मिर्च

इस तरह केटोजेनिक आहार माइक्रोबायोम को करता है प्रभावित

याददाश्त कम होने की समस्या से मिल सकता है छूटकारा, वैज्ञानिकों ने खोज निकला तरीका

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Live Election Result

Gujarat BJP CONGRESS
182 157 16
Himachal Pradesh CONGRESS BJP
68 39 26

Most Popular

- Sponsored Advert -