भारत को यूरिया प्लांट के लिए गैस देने को तैयार ईरान

नई दिल्ली : ईरान ने भारत को 2.95 डॉलर/मिलियन ब्रिटिश थर्मल यूनिट की दर पर नैचुरल गैस देने पेशकश की है. ईरान भारत को चबहार पोर्ट (बंदरगाह) के पास बनने वाले यूरिया प्लांट में खाद बनाने के लिए गैस सप्लाई करने को भी तैयार है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि कि भारत इस प्लांट में एक लाख करोड़ रुपए इन्वेस्ट करने की तैयारी में है. इससे भारत और ईरान के संबंध भी मधुर होंगे. चबहार पोर्ट के जरिए भारत की पहुच सेंट्रल एशिया तक बढ़ सकती है.

ईरान भारत को करीब 197 रुपए की दर पर नैचुरल गैस सप्लाई करने को तैयार है, लेकिन भारत करीब 99 रुपए की दर से खरीदना चाहता है. हालांकि, ईरान ने जिस रेट पर गैस सप्लाई करने की पेशकश की है, वह अभी भारत में होने वाली सप्लाई के रेट से काफी कम है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भारत ईरान में बड़ा इन्वेस्टमेंट करने को तैयार है. उन्होने बताया कि अगर ये यूरिया प्लांट वहां लगता है तो भारत में यूरिया के दाम लगभग आधे रह जाएंगे. इससे सरकार पर पड़ने वाला करीब 80 हजार करोड़ रुपए का सब्सिडी का बोझ भी कम होगा.'

नितिन गडकरी ने बताया कि भारत चबहार पोर्ट के विकास में 536.94 करोड़ रुपए लगाने को तैयार है. पोर्ट का विकास भारतीय कारोबार के नजरिए से बहुत अहम है. इस पोर्ट की मदद से भारत बिना पाकिस्तान गए, सी-लैंड रूट से अफगानिस्तान और सेंट्रल एशिया तक पहुंच सकता है, जिससे ट्रांसपोर्ट के खर्च में भी काफी कमी आएगी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -