Share:
थूक पीने के लिए 42 लड़कियों को युवक ने उतारा मौत के घाट, पूरा मामला उड़ा देगा होश
थूक पीने के लिए 42 लड़कियों को युवक ने उतारा मौत के घाट, पूरा मामला उड़ा देगा होश

आज के समय में भी दुनिया में कई ऐसे लोग हैं जो अंधविश्वास के शिकार हैं और वह सोचते हैं वह कुछ भी कर सकते हैं। कई लोग किसी के छींकने को अपशगुन मानते हैं तो कई लोग बिल्ली के सड़क क्रॉस करने तक को भी अपशगुन मान लेते है। हालांकि, कई बार कुछ लोगों का अंधविश्वास दूसरों के लिए मुसीबत बन जाता है। जी हाँ, हाल ही में जो मामला सामने आया है वह इसी से जुड़ा है। जी दरअसल इंडोनेशिया में रहने वाले एक शख्स ने इसी के चक्कर में करीब 42 मर्डर कर डाले।

बताया जा रहा है इस सीरियल किलर को आज से चौदह साल पहले, यानी 10 जून 2008 को मौत की सजा दी गई थी और उसने अपना जुर्म कबूलते हुए माना था कि साल 1986 से साल 1997 के बीच उसने 42 लड़कियों और महिलाओं की हत्या की थी। जी हाँ और इस हत्या के पीछे शख्स का अंधविश्वास था। जी दरअसल उसे ऐसा लगता था कि अपने हाथों से मारी गई महिलाओं के मुंह से थूक निकालकर पीने से उसे सुपरपावर मिल जाएगा। आपको बता दें कि इस खौफनाक घटना के बारे में बताया जाता है कि आरोपी असल में भेड़-बकरी चराता था। वहीं हत्या करने के बाद उसने घर के नजदीक उगे गन्ने के खेत में सारी लाशें दफनाई थी। इस शख्स की पहचान 59 साल के अहमद सुराडजी के तौर पर हुई थी और उसे सरेआम गोलियों से भूनकर मौत दी गई थी।

बताया गया कि मारी गई लड़कियों में कुछ की उम्र सिर्फ ग्यारह साल भी थी और गिरफ्तारी के बाद शख्स ने बताया था कि उसने ये हत्या तब करनी शुरू की जब उसके पिता का भूत उसके पास आया और उसे सपने में कहा कि उसे करीब 70 महिलाओं का थूक पीना है। जी हाँ और 70 महिलाओं का थूक पीने से वो महाशक्तिशाली बन जाता। आरोपी ने बताया कि ऐसा उसके पिता के भूत ने उसे कहा था और अपने पिता की आत्मा की ये बात सुनकर शख्स ने महिलाओं और बच्चियों की हत्या करनी शुरू की थी।

'तुम्हारे सामने 10 लोगों के साथ सोऊंगी', पत्नी के यह कहते ही पति को आया गुस्सा और फिर।।।

भाभी से चल रहा था चक्कर, शादी हुई तो देवर ने कर डाला ये घिनौना काम

इस मशहूर एक्टर को डेट कर रहीं हैं परिणीति चोपड़ा!

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -