अपने गिरेबाँ में झाँके इंडिगो एयरलाइन्स - DIAL

By Abhishek Dubey
Dec 05 2017 08:45 PM
अपने गिरेबाँ में झाँके इंडिगो एयरलाइन्स - DIAL

DIAL और इंडिगो एयरलाइन्स की उड़ानों को शिफ्ट करने को लेकर दोनों कंपनियां कोर्ट में आमने-सामने हो गई. उल्लेखनीय है कि DIAL एयरपोर्ट को ऑपरेट करने वाला एक ज्वाइंट वेंचर है. इसमें जीएमआर ग्रुप की हिस्सेदारी 54%, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया कि हिस्सेदारी 26%, फ्रापोर्ट एजी और एरामैन मलेशिया की हिस्सेदारी 10-10% है. इंडिगो को टर्मिनल चेंज किये जाने का एतराज़ है. पैसेंजर को होने वाली असुविधा का हवाला देते हुए इंडिगो ने अदालत का दरवाज़ा खटखटाया है.

DIAL और इंडिगो एयरलाइन्स का उड़ानों को शिफ्ट करने का मामला कोर्ट तक जा चुका है. दोनों अपनी-अपनी बात को सही ठहराने पर आमादा है, वही इंडिगो मामले को लेकर अदालत तक पहुंच गई है. शेयर मार्केट के हिसाब से इंडिगो इस समय देश कि सबसे बड़ी एयरलाइन्स कंपनी है. वही DIAL ने अपने एक बयान में कहा कि, हमें एयरपोर्ट कैसे चलाना है ये हमें इंडिगो ना सिखाये. ये बात सुनवाई के दौरान DIAL के वकील हरीश साल्वे ने कही. जज एके चावला ने फैसला सुरक्षित रखा है.

इंडिगो इस से पहले राजीव कात्याल नाम के पैसेंजर के साथ बदतमीजी के लिए भी विवाद में आई थी. इससे पहले बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने भी इंडिगो की फ्लाइट में उनसे बुरा बर्ताव किए जाने की शिकायत की थी. जिस पर इंडिगो ने जांच के लिए वक़्त माँगा था. इसके अलावा भी इंडिगो कई बार विवादित स्थितियों का सामना कर चुकी है.

यहाँ क्लिक करे 

गुजरात में आएगा राजनीतिक भूकंप -योगेंद्र

पैसे-पैसे को मोहताज़ हुई हनीप्रीत

उत्तर प्रदेश में छाए घने बादल

अपनी Sexy फोटोज से सभी को दीवाना बना रही हैं ये DJ