भारतीय वायु सेना की शक्ति बनेंगे तेजस, भारत खरीद रहा सेन्य सामान

नई दिल्ली : भारत अपनी वायु सैनिक क्षमताओं को उन्नत करने में लगा है। जहां भारत ने लड़ाकू विमान तेजस को वायु सेना की सेवाओं में शामिल कर लिया है वहीं भारत द्वारा उन्नत एयरक्राफ्ट राफेल खरीदे जाने को लेकर तेजी बरती गई है। दूसरी ओर अब यह बात सामने आई है कि रक्षा मंत्रालय से 80 हजार करोड़ रूपए सेना का सामान खरीदने को लेकर स्वीकृत किए गए हैं। इससे सेना के लिए 464 टैंक और वायुसेना के लिए 83 तेजस लड़ाकू विमान खरीदे जाएंगे।

दरअसल रक्षामंत्रालय की उच्च स्तरीय रक्षा खरीद परिषद की बैठक में सेना के लिए आवश्यक उपकरणों, हथियारों और एयरक्राफ्ट खरीदे जाने को लेकर मांग की गई थी। जिस पर रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने अपनी स्वीकृति दे दी। रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर की अध्यक्षता में इस बैठक का आयोजन हुआ था। इस बैठक में सेना के तीनों अंगों के प्रमुख उपस्थित थे। इस बैठक में जो निर्णय हुआ उसके अनुसार कहा गया है कि भारत 83 तेजस विमान खरीदेगा।

गौरतलब है कि ये स्वदेशी तकनीक पर आधारित विमान हैं। विमान खरीदने पर 50 हजार करोड़ रूपए का खर्च आएगा। इतना ही नहीं वायुसेना 10 लाईट काॅम्बैट हेलीकाॅप्टर खरीदेगी। थलसेना के लिए 5 हेलीकाॅप्टर खरीदे जाने पर स्वीकृति दी गई है। भारतीय सेना द्वारा इस तरह की सामग्री की खरीद इसे अपने अभियानों में मजबूती और सफलता दिलाएगी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -