चीन को भारत ने दिया एक और झटका, बिजली मंत्री ने पहुचाई जबदस्त हानि

चीन को भारत ने दिया एक और झटका, बिजली मंत्री ने पहुचाई जबदस्त हानि

भारत और चीन की सीमा पर बीते दिनों तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी. जिसका सबसे ज्यादा नुकसान चीन को हुआ है. बता दे कि चीन को अब भारत सरकार आर्थिक मौर्चे पर घेर रही है. भारत सरकार ने चीन से बिजली उपकरण आयात नहीं करने का फैसला लिया है. चीन ही नहीं, बल्कि पाकिस्तान से भी अब भारत कोई बिजली उपकरण नहीं खरीदेगा. बिजली मंत्री आर के सिंह ने शुक्रवार को यह घोषणा की है. 

क्या प्राइवेट सेक्टर करने वाला है रेलवे का संचालन ? 

प्रेस वार्ता में आर के सिंह ने बताया कि चीन और पाकिस्तान से उपकरणों के आयत को विशेष रूप से निरीक्षण के आधार पर अनुमति नहीं दी जाएगी. उन्होंने आगे कहा कि राज्य के डिस्कॉम्स को चीनी कंपनियों को उपकरण की आपूर्ति के आदेश नहीं देने चाहिए. बता दे कि शुक्रवार सुबह राज्यों के ऊर्जा मंत्रियों की कॉन्फ्रेंस की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा, 'हम अपने देश में सभी चीजों का उत्पादन करते हैं. भारत 71,000 करोड़ रुपये के बिजली उपकरण आयात करता है, जिसमें 21,000 करोड़ के उपकरण चीन से आते हैं.'

चीनी सामानों के ​बहिष्कार का दिखा असर, भारत कम हुआ व्‍यापार घाटा

अपने बयान में उन्होंने आगे कहा कि, 'हम चीन और पाकिस्तान से आयात की अनुमति नहीं देंगे. हम प्रभावित हैं. उन उपकरणों में मैलवेयर आदि हो सकता है, जिसे वे हमारे पावर सिस्टम को नुकसान पहुंचाने के लिए दूर से ही सक्रिय कर सकते हैं.'इससे पहले सोमवार शाम भारत सरकार ने 59 चीनी एप्स को बैन करने की घोषणा की थी. वही,  भारत सरकार ने इन सभी ऐप्स को भारत की एकता, रक्षा और राज्यों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बैन करने का ऑर्डर जारी किया था. बैन हुए ऐप्स में TikTok शॉर्ट वीडियो मेकिंग ऐप के अलावा DU Recorder, Likee, Helo, Vigo Video सहित कई चाइनीज लोकप्रिय ऐप्स शामिल हैं.

शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल, 36000 के पार पहुंचा सेंसेक्स

Mutual Funds के बदले एक करोड़ का लोन दे रहा ये बैंक, आप भी ले सकते हैं लाभ

निवेशकों को मिली चेतावनी, भूलकर भी साझा न करें दस्तावेज