नोट बन्दी के कारण ICICI में जमा हुए 32 हजार करोड़

मुम्बई : नोटबन्दी के बाद देश के सरकारी और निजी बैंकों में नोट बन्दी के कारण बन्द किये गए 500 और 1000 के नोटों का अम्बार लग गया है. फिलहाल निजी बैंक आईसीआईसीआई की जानकारी मिली है. उसके अनुसार 8 नवम्बर को नोट बन्दी के बाद से अब तक 32,000 करोड़ रुपये जमा के रूप में प्राप्त हुए हैं.

इस सम्बन्ध में आईसीआईसीआई बैंक की प्रबंध निदेशक और सीईओ चंदा कोचर ने कहा कि अगर मैं आपको आंकड़ा बताऊं तो यह 32,000 करोड़ रुपये पहुंच गया है, वहीँ नोटबन्दी में बंद किये गये नोटों को बदलने के लिये लगी लंबी लाइनों तथा लोगों को हो रही कठिनाइयों से पैदा हो रही नाराजगी पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए चंदा कोचर ने कहा कि देश में काफी मुद्रा है लेकिन लॉजिस्टिक में समय लग रहा है, जिसके कारण बैंक शाखाएं और एटीएम संघर्ष कर रहे हैं.

आईसीआईसीआई बैंक की प्रमुख ने यह भी कहा कि एटीएम के जरिये बड़ी संख्या में 500 के नए नोट उपलब्ध होने से बैंकों पर दबाव कम होगा और ग्राहकों के लिये स्थिति सुगम हो जाएगी.

ICICI बैंक और HDFC ने भी होम लोन की ब्याज दर घटाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -