Share:
'अंतिम सांस तक आपकी सेवा करता रहूँगा..', छिंदवाड़ा में शिवराज ने दिया बड़ा संकेत, क्या वही बनेंगे CM ?
'अंतिम सांस तक आपकी सेवा करता रहूँगा..', छिंदवाड़ा में शिवराज ने दिया बड़ा संकेत, क्या वही बनेंगे CM ?

छिंदवाड़ा: शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कहा कि वह अपनी आखिरी सांस तक जनता की सेवा करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि, 'विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद, मैं छिंदवाड़ा में अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलने का बेसब्री से इंतजार कर रहा था। मुझे उम्मीद नहीं थी कि यहां आने पर मुझे इतना सम्मान मिलेगा। जब मैं यहां आ रहा था, तो मैंने अपनी बहनों को कार्ड पकड़े देखा जिसमें लिखा था, 'भैया आपन जीत गए'। मैं इस शानदार जीत को अपनी बहनों और राज्य के लोगों को समर्पित करता हूं।",

चौहान ने मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि, "मैं अपनी आखिरी सांस तक आपकी सेवा करता रहूंगा। मैं, शिवराज सिंह चौहान, राज्य में विकास की गारंटी देने का वादा करता हूं।" प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए, चौहान ने कहा कि, "नरेंद्र मोदीजी हमारे देश के लिए एक आशीर्वाद हैं। हम पीएम मोदी जी के नेतृत्व में अपने देश को 'विश्वगुरु' बनाएंगे। कांग्रेस राम मंदिर पर सवाल उठाती थी। लेकिन अब, इसका उद्घाटन होने जा रहा है।" 

उन्होंने कहा, "मैंने वादा किया है कि हम हर गारंटी को पूरा करेंगे। हमें हर परिवार को रोजगार का वादा पूरा करना है। हमें अपनी बहनों से किया गया वादा पूरा करना है।" बता दें कि, बीजेपी के दिग्गज नेताओं ने 2024 के लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश की सभी 29 सीटें भाजपा की झोली में डालने का वादा भी किया। 2019 में बीजेपी ने 29 में से 28 सीटें जीती थीं। चौहान ने आगे कहा कि, 'मैं शिवराज सिंह चौहान हूं और आपको प्रगति की गारंटी देता हूं। आज से हम मध्य प्रदेश की सभी 29 सीटों को जीतने के लिए एक नया मिशन, मिशन 29 शुरू कर रहे हैं। हमारा संकल्प लोक में राज्य की सभी 29 सीटों पर 'कमल' खिलाना है।"

उन्होंने कहा कि, अगले वर्ष लोकसभा चुनाव होने हैं। इसके लिए हम सभी भाजपा के समर्पित एवं निष्ठावान कार्यकर्ता पूरी निष्ठा से मेहनत कर संगठन को मजबूत बनाएंगे तथा '29 कमल' की माला निश्चित रूप से अपने प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को समर्पित करेंगे।'' चौहान ने कहा, "भाजपा को 48.6% वोट मिले जो हमें अब तक नहीं मिले। जब हमने 173 सीटें जीतीं तो वोट प्रतिशत 42 था। आपने चमत्कार कर दिया।" भाजपा ने मध्य प्रदेश में एक रिकॉर्ड बनाया और पिछले 20 वर्षों में से 18 वर्षों तक राज्य पर शासन करने के बाद सत्ता में वापस आई। यह राज्य में पार्टी की संगठनात्मक पकड़ के साथ-साथ उसकी योजनाओं और नेतृत्व की लोकप्रियता का स्पष्ट संकेत है।

बता दें कि , इस बार चुनावों में भाजपा ने पार्टी संगठन की ताकत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करिश्मे का इस्तेमाल कर चुनाव लड़ा था। पार्टी ने किसी भी चुनावी राज्य में मुख्यमंत्री पद का कोई उम्मीदवार पेश नहीं किया था, मुख्यमंत्रियों के चयन पर अब भी संशय बरक़रार है और मंथन जारी है।

जिस पति पर बलात्कार-अप्राकृतिक यौनाचार का आरोप, वह खुद ही पहुंचा थाने, पुलिस मांग रही ढाई करोड़..

'भाजपा को 50 सीट मिली, तो अपना मुंह काला कर लूंगा..', कांग्रेस प्रत्याशी फूलसिंह बरैया ने किया था दावा, अब पार्टी नेता ने अपने मुंह पर पोती कालिख

'जिनके साथ नाइंसाफी हुई, उन्हें न्याय दिलाने के लिए है ये बिल..', जम्मू-कश्मीर आरक्षण विधेयक पर लोकसभा में बोले अमित शाह

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -