Hindi Diwas :सिर्फ भारत में ही नहीं इन देशों में भी बोली जाती है हिंदी, जानें रोचक तथ्य

Sep 11 2019 11:48 AM
Hindi Diwas :सिर्फ भारत में ही नहीं इन देशों में भी बोली जाती है हिंदी, जानें रोचक तथ्य

हर साल 14 सितम्बर बहुत खास होता है. वो इसलिए क्योंकि इस दिन को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह दिन हिंदी भाषा की महत्ता को दर्शाता हैं और हमारे जीवन में हिंदी की उपयोगिता को बढ़ाने के लिए प्रेरित करता हैं. आज के समय में लोग हिंदी कम ही बोलते हैं या फिर उन्हें हिंदी बोलना नहीं आता. कुछ ऐसे भी होते हैं जिन्हें हिंदी बोलने में शर्म महसूस होती है. इसी की विशेषता और महत्व बताने के लिए ये दिन मनाया जाता है. हिंदी दिवस का उद्देश्य ही आज एक युवाओं को अपनी जड़ों से जोड़ना और इसके बारे में अवगत कराना हैं. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें, पूरे विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओँ में हिंदी चौथे नंबर पर आती हैं. लेकिन इसकी घटती प्राथमिकता चिंता का विषय बनती है. आज हम हिंदी के बारे में कुछ रोचक तथ्य बताने जा रहे हैं. 

- दुनिया भर में ऐसे कई शब्दों का प्रयोग किया जाता है जो लगता है कि अंग्रेजी के शब्द हैं पर वास्तव में ये शब्द हिंदी भाषा से हैं. इनमें से कुछ शब्द जंगल, लूट, बंगला, योग, कर्म, अवतार और गुरु हैं.

- हिंदी भाषा में सभी संज्ञाओं में लिंग हैं. ये या तो स्त्रीलिंग हैं या पुल्लिंग हैं. इस भाषा में विशेषण और क्रियाएँ लिंग के आधार पर भिन्न होती हैं.

- हिंदी नाम फारसी शब्द हिंद से बना है जिसका मतलब है कि सिंधु नदी का भूमि.

- हिंदी मूलतः भाषाओं के इंडो-यूरोपियन परिवार के इंडो-आर्यन भाषाओं के सदस्यों में से एक है.

- हिंदी में कई शब्द संस्कृत से प्रेरणा लेते हैं.

- हिंदी को पूरी तरह ध्वन्यात्मक लिपि में लिखा गया है. इस भाषा के शब्दों को उसी तरह स्पष्ट किया जाता है जिस तरह से वे लिखे गए हैं.

- यह उन सात भाषाओं में से एक है जो वेब एड्रेस बनाने के लिए उपयोग की जाती हैं.

- दुनिया में हर ध्वनि हिंदी भाषा में लिखी जा सकती है.

- हिंदी भाषा का प्रयोग सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के अन्य देशों में भी किया जाता है जिनमें पाकिस्तान, फिजी, नेपाल, श्रीलंका, सिंगापुर, न्यूजीलैंड, यूनाइटेड अरब एमिरेट्स और ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं.

इस वजह से 14 सितम्बर को ही मनाया जाता है हिंदी दिवस