फ़ोन उठाते ही 'HELLO' बोलने के पीछे ये होती है वजह

आप भी जब भी फ़ोन उठाते हैं तो सबसे पहले एक ही शब्द कहते हैं और वो है Hello... लेकिन आपके दिमाग में भी कई बार ये सवाल तो आया ही होगा कि आखिर इस शब्द को कहा क्यों जाता है? कहां से आया हैलो? क्या है हैलो बोलने के पीछे का राज... तो चलिए हम आज आपके इस सवाल का जवाब दे ही देते हैं. दुनिया में कई लोग फ़ोन पर बात करते हैं और सबसे पहले फ़ोन उठाते से ही हैलो कहते हैं लेकिन बहुत ही कम लोगों को ये पता है कि आखिर हैलो कहा क्यों जाता है?

देश-विदेश में हर कोई हैलो बोलकर ही अपनी बातचीत को आगे बढ़ाता है. खास बात तो ये है कि हैलो शब्द का अविष्कार ही फ़ोन पर बातचीत करने के लिए हुआ था. भले ही हर देश की अपनी-अपनी अलग भाषा हो लेकिन हैलो शब्द तो सभी भाषाओं में एक जैसे ही कहा जाता है. दिलचस्प बात तो ये है कि हैलो शब्द का अविष्कार फ़ोन का अविष्कार करने वाले वैज्ञानिक ग्राहम बेल ने ही किया है.

21 नवंबर का दिन दुनियाभर में हैलो डे के नाम से मनाया जाता है. ग्राहम बेल अपनी गर्लफ्रेंड के प्यार में इतना ज्यादा दीवाने थे कि उन्होंने ना सिर्फ फ़ोन का बल्कि उसपर बात करने के लिए इस्तेमाल होने शब्द का अविष्कार भी गर्लफ्रेंड के नाम के आधार पर कर दिया. उनकी गर्लफ्रेंड का नाम ‘मारग्रेट हैलो’ था. वो अपनी गर्लफ्रेंड से बहुत प्यार करते थे और वो उन्हें हैलो कहकर ही पुकारते थे. इसलिए जब उन्होंने फ़ोन का अविष्कार किया उसका बाद सबसे पहले हैलो ही कहा था और तब से लेकर आज तक इस शब्द का इस्तेमाल हो रहा है और आगे भी होता ही रहेगा.

खबरें और भी...

दुल्हन से भी ज्यादा गोल्ड पहना था इस दूल्हे ने, जानिए फिर क्या हुआ

दुनिया के कुछ अजीबोगरीब रोचक तथ्य, जिनके बारे में जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे

यहां खुला कंडोम का शोरूम, जहां मिलते हैं हर तरह के कंडोम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -