फ्लू से बचने के लिए करें नमस्कार

फ्लू से बचने के लिए करें नमस्कार

जब हम भारतीय किसी रिश्तेदार या परिचित से मिलते है तो अभिवादन के तौर पर नमस्ते करते है। लेकिन वक्त के साथ में पुरानी परंपराओं को पीछे छोड़कर नए तरीके अपना रहे है। जब भी बाहर वालों से मिलते है उनसे हाथ मिलाते है और हेलो बोलते है। जिसका हमे अंदाजा नहीं है कि हम खुद से ही बीमारियों को बुलावा देते है। बारिश के मौसम में भीगना बहुत अच्छा लगता है लेकिन फ्लू का खतरा भी सबसे ज्यादा होता है। ऐसे में मौसम में जब आपको सर्दी या खासी हो जाती है और जब आप हाथ मिलाते है तो आपको अंदाजा भी नहीं रहता कि हाथ मिलाने से आपको भी बीमारी का खतरा हो सकता है। 

भारतीय में नमस्ते करने का मुख्य कारण है ‘नमस्ते’ संस्कृत के दो शब्द ‘नमस’ जिसका मतलब होता है झुकना और ‘ते’ का मतलब होता है आपको। मतलब हम आपको झुककर सम्मान करते है। इसके साथ ही साइंटिफिक कारण यह भी है कि हाथ मिलाने से एक-दुसरे के हाथ के कीटाणु लग जाते है जिससे आपके बीमार होने का खतरा ओर बढ़ जाता है। इसलिए पुराने समय में भारतीय हमेशा हाथ जोड़कर नमस्कार करते थे। 

फ्लू से बचने के लिए आप ये तरीकें अपना सकते है - 


- खाना खाने से पहले हाथ धोना नहीं भूलें। क्योंकि बारिश के मौसम में रोग शारिरिक संपर्क से सबसे ज्यादा फैलते है।
- बारिश के मौसम में इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है ऐसे में नियमित रूप से एक्सरसाइज करें। 
- बाहर का खाना खाने से बचें। खासकर पानी पूरी और स्ट्रीट फूड। इसके बदले सेहतमंद और पोषक आहार लें।
- फ्लू से बचने के लिए वैक्सीन भी उपलब्ध होता है। यह उन लोगों को देना चाहिए जिसमंे संक्रमण के आसार अधिक हो। 
- पानी भरपूर पिएं। 

बारिश के मौसम में जरूर करें इन फलों का सेवन

एक्जिमा की समस्या है तो भूलकर भी ना करें डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन

लालू के बिगड़ते स्वास्थ्य से परेशान हुए तेजस्वी

?