हैण्ड सेनेटाइजर पहुचाता है बच्चो को नुकसान

हाथो को साफ करने के लिए आजकल साबुन से अधिक हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग किया जा रहा है, लेकिन क्या आप जानते हैं यह त्वचा के लिए बहुत नुकसानदेह है, यह किस तरह नुकसान पहुंचाता है, आइए हम आपको बताते हैं.

1-सैनिटाइजर में ट्राइक्लोसान नामक एक केमिकल होता है, जिसे हाथ की त्वचा तुरंत सोख लेती है. अगर यह रक्त संचार में शामिल हो जाये, तो यह मांसपेशी को-ऑर्डिनेशन के लिए जरूरी सेल-कम्युनिकेशन को बाधित करता है. 

2-इसका लंबे समय तक ज्यादा इस्तेमाल त्वचा को सूखा बनाने, बांझपन और हृदय के रोग को न्योता दे सकता है. इसलिए अगर आपको हाथ धोने की जरूरत महसूस हो रही है, तो इंतजार कीजिए और मौका मिलते ही साबुन और पानी से ही अपने हाथों को धोइए.

3-हम सभी जानते है कि बच्चे ना जाने कैसी-कैसी चीजों को हाथ लगाते रहते है. उनको हैंड सैनीटाइजर का प्रयोग करने अपने सामने ही कराये. . कई बार बच्चों के सैनिटाइजर को निगल लेने का खतरा  ऱहता है. सैनिटाइजर मे एल्कोहल की मात्रा होने की वजह से ये बच्चों की सेहत पर बुरा असर डाल सकती है. इस तरह के कई मामले सामने आ भी चुके है.

4- हैंड सैनिटाइटर के ज्यादा प्रयोग से बच्चों की इम्यूनिटी घट रही है. बच्चों की यूरीन मे इनफ्लेमेटरी तत्व  सी-रिएक्टिव प्रोटीन पाया गया है जो कि इम्यूनिटी को कमजोर करता है. इसका ज्यादा प्रयोग बड़ो को भी नुकासन करता है.  

क्या आप जानते हैं कितना सेफ है आपका Handwash

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -