गोधरा कांड का असली गुनहगार 14 साल बाद ATS के हाथ

अहमदाबाद : गुजरात में हुए गोधरा कांड को हुए 14 साल बीत गए और अब जाकर उसका मुख्य आरोपी फारुक भाणा पुलिस के हत्थे आया है। गुजरात एटीएस ने बुधवार को भाणा को अरेस्ट किया। भाणा पर आरोप है कि उसी ने ट्रेन जलाने की साजिश रची थी। पूरे गोधरा कांड की साजिश रचने वाला भाणा साल 2002 में फरार हो गया था।

बता दें कि 27 फरवरी 2002 को गुजरात में गोधरा कांड के बाद दंगे भड़क गए थे। ट्रेन में आग लगाए जाने से 59 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई थी। भाणा को पंचमहल जिले के कलोल टोल प्लाजा से गिरफ्तार किया गया।

गोधरा पंचमहल जिले के ही अंतर्गत आता है। इस गिरफ्तारी के संबंध में एटीएस द्वारा दोपहर 3 बजे प्रेस कांफ्रएंस की जाएगी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -