पोती ने की मिसाल कायम, बैंक में जमा कराये सौ-सौ के नोट

जींद : यहां एक स्कूली छात्रा ने न केवल नोटबंदी के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का समर्थन किया है वहीं अपने घर में रखे सौ-सौ के करीब 11200 रूपये भी बैंक में जाकर जमा करवा दिये। बताया गया है कि जिस छात्रा ने बैंक में पुराने नोटों को जमा करवाया है, वह रूपये उसकी शादी के लिये उसके दादा ने घर में बचाकर रखे थे।

मोदी को देखा तो आया ख्याल

मामला पेगा गांव में रहने वाली कक्षा 8 वीं की छात्रा अंजली के साथ जुड़ा हुआ है। अंजलि ने बताया कि उसने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अभियान के बारे में सुना है। टीवी चैनलों पर भी अंजलि ने कालाधन के खिलाफ मोदी को भाषण देते हुये सुना तो फिर इसके बाद उसे अपने घर में रखे पुराने नोटों को बैंक में जमा कराने का ख्याल आया।

जिद की थी माता-पिता से

बताया गया है कि अंजलि के दादा चैधरी हरिराम नंबरदार ने अपनी पोती अंजली और उसकी बहन के लिये सौ-सौ के नोट बचाकर रखे थे। उनका निधन होने के बाद अंजलि के पिता सुखबीर ने छुपा कर रख लिये, ताकि दादा का वादा पूरा किया जा सके। चुंकि अंजलि ने मोदी का साथ देने का संकल्प कर लिया था इसलिये उसने सौ-सौ के नोटों को बैंक में जमा कराने की जिद पकड़ ली। आखिकार माता पिता को झुकना पड़ा।

अंजली का कहना था कि वह अपने दादा की निशानी को बैंक में रखना चाहती है ताकि उनकी याद हमेशा बनी रहे। अंजलि अपने पिता के साथ नोट लेकर अपने स्कूल पहुंची। यहां जब स्कूल के प्राचार्य रमेश कुमारने अंजली की बात सुनी तो उनकी आंखों से आंसू आ गए। इसके बाद उन्होंने स्कूली शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों की बैठक बुलाते हुये सभी से सौ-सौ रूपये एकत्र किये और फिर 22400 रूपये बैंक में ले जाकर जमा करा दिये।

नोटबंदी: विपक्ष ने मचाया हंगामा, सदन की कार्रवाई स्थगित

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -