Share:
फर्जी खबर फ़ैलाने वाले को कांग्रेस का इनाम ! अवि डांडिया बने IOC सोशल मीडिया प्रमुख
फर्जी खबर फ़ैलाने वाले को कांग्रेस का इनाम ! अवि डांडिया बने IOC सोशल मीडिया प्रमुख

नई दिल्ली: शनिवार, 23 सितंबर को, प्रमुख यूट्यूबर अवि डांडिया ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर एक महत्वपूर्ण घोषणा की, जिसमें खुलासा किया गया कि उन्होंने इंडियन ओवरसीज कांग्रेस (आईओसी) के सोशल मीडिया डिवीजन के लिए मुख्य-प्रभारी की भूमिका संभाली है। .

एक ट्वीट में उन्होंने अपना आभार व्यक्त करते हुए कहा, ''मुझे दुनिया भर में आईओसी सोशल मीडिया के मुख्य प्रभारी के रूप में नियुक्त करने के लिए राहुल गांधी, सैम पित्रोदा, वीरेंद्र वशिष्ठ और कांग्रेस और ओवरसीज कांग्रेस के सभी लोगों को धन्यवाद। गेम शुरू हुआ पवन खेड़ा पर गेम और सुप्रिया श्रीनेत।'

अवि डांडिया ने एक अन्य ट्वीट में कहा, "आप सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद। यह खेल का समय है।"

विशेष रूप से, अवि डांडिया का आम आदमी पार्टी समर्थक व्लॉगर ध्रुव राठी से करीबी संबंध माना जाता है। हालाँकि, पुलवामा आतंकी हमले से संबंधित फर्जी खबरें फैलाने में उनकी पिछली संलिप्तता के कारण इस राजनीतिक भूमिका में उनकी नियुक्ति पर सवाल खड़े हो गए थे।

मार्च 2019 में दिल्ली पुलिस ने अवि डांडिया के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 465 और 469 के तहत मामला दर्ज किया था. यह कार्रवाई उनके द्वारा एक मनगढ़ंत वीडियो साझा करने के बाद की गई, जिसमें झूठा दावा किया गया कि यह गृह मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और एक अज्ञात महिला के बीच बातचीत है। वीडियो में, तीनों व्यक्ति कथित तौर पर पुलवामा आतंकी हमले से संबंधित एक 'साजिश' पर चर्चा कर रहे थे, जिसमें 14 फरवरी, 2019 को दुखद रूप से 44 सीआरपीएफ जवानों की जान चली गई थी।

​टेलीफोन पर बातचीत का भ्रम पैदा करने के लिए पुराने साक्षात्कारों और राजनेताओं के ऑडियो क्लिप के हिस्सों में हेरफेर करके, संदर्भ से बाहर ले जाकर भ्रामक ऑडियो क्लिप बनाई गई थी। पुलवामा आतंकी हमले के तुरंत बाद, एवी डांडिया ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर एक सर्वेक्षण आयोजित किया था, जिसमें निराधार आरोप लगाया गया कि आतंकी हमला भारत के अंदर का काम था। बता दें कि, इंडियन ओवरसीज कांग्रेस (आईओसी) के सोशल मीडिया डिवीजन के मुख्य-प्रभारी के रूप में अपनी भूमिका संभालने से पहले, अवि डांडिया को अक्सर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर राहुल गांधी की प्रशंसा करते देखा गया था। गुरुवार, 21 सितंबर को किए गए एक ट्वीट में उन्होंने दिल्ली के आनंद विहार आईएसबीटी में 'कुली अवतार' के दौरान राहुल गांधी के कार्यों की सराहना की।

 

यहाँ हम आपके लिए उस आतंकी आदिल अहमद डार का वीडियो शेयर कर रहे हैं, जिससे आप समझ सकेंगे कि, वो हमला किस नफरत के आधार पर किया गया था और वो किसका काम था। लेकिन, कांग्रेस के कुछ नेताओं ने इस हमले में भी पाकिस्तान को क्लीन चिट देते हुए इसका आरोप भारत पर ही डालने की कोशिश की, जैसा 26/11 मुंबई हमले को दिग्विजय सिंह ने RSS की साजिश बताया था, लेकिन 10 आतंकियों में से एकमात्र जिन्दा पकडे गए अजमल कसाब ने खुद कबूला था कि, उसे पाकिस्तान ने हूरों की लालच देकर भारत में जिहाद करने भेजा था। अगर मुंबई पुलिस के तुकाराम ओम्बले अपने शरीर पर 23 गोलियां खाकर आतंकी अजमल कसाब को जिंदा पकड़ने​ में सफल नहीं होते तो आज पूरा भारत उस हमले को 'हिन्दू आतंकवाद' मान रहा होता और देश की बहुसंख्यक आबादी पर आतंकी का ठप्पा लग जाता। यह भी गौर करने वाली बात है कि, कांग्रेस शुरू से कहती रही है कि, आतंकी का कोई धर्म नहीं होता, लेकिन 'हिन्दू आतंकवाद' शब्द गढ़ने वाली और उसे फैलाने वाली कांग्रेस ही है वो भी तब, जब संयुक्त राष्ट्र (UN) में एक भी हिन्दू संगठन, आतंकी संगठन के रूप में लिस्टेड नहीं है, न ही किसी हिन्दू धर्म के मानने वाले व्यक्ति को कहीं आतंकी घोषित किया गया हैऐसा एक उदाहरण पूरी दुनिया में कहीं नहीं है, जब कोई हिन्दू धर्म का व्यक्ति निर्दोष लोगों के बीच अपनी छाती पर बम बांधकर फट गया हो। लेकिन, इसके बावजूद हिन्दू आतंकवाद शब्द फैलाया गयाबाकी के ढेरों उदाहरण मिल जाएंगे, लेकिन हम आज भी यही मानते हैं कि, आतंकियों का कोई धर्म नहीं होता, वे केवल दरिंदे हैं और कलियुग के राक्षस हैं, जो दूसरे लोगों को जीने नहीं देना चाहते 

भारतीय रेलवे की बढ़ती रफ़्तार, आज 9 वंदे भारत ट्रेनों का शुभारंभ करेंगे पीएम मोदी, 3 घंटे तक घट जाएगा यात्रा का समय

'माता पार्वती, रानी लक्ष्मीबाई से लेकर चंद्रयान-3 तक..', काशी में पीएम मोदी ने किया 'नारी शक्ति' को नमन

लालबाग के राजा की शरण में पहुंचे अमित शाह, परिवार सहित लिया आशीर्वाद

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -