भारत ने कहा, नेपाल का नया संविधान खुशी का अवसर

काठमांडू. विदेश सचिव एस जयशंकर ने नेपाल के अपने दो दिवसीय दौरे का समापन करते हुए कहा कि भारतीय लोकत्रंत हमेशा से ही सुदृढ़ता से संविधान निर्माण प्रक्रिया का समर्थन करता रहा है व नेपाल के नये संविधान का मुकम्मल होना खुशी का अवसर होना चाहिए ना कि हिंसा का यह बात विदेश सचिव एस जयशंकर ने संघीय ढांचा के खिलाफ मधेशी समूहों के विरोध प्रदर्शनों के बाद कही. नेपाल में 20 सितंबर से संविधान लागू होगा. 

नेपाल में भारतीय राजदूत रंजीत राय के साथ जयशंकर ने शनिवार सुबह त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर मीडिया कर्मियों के साथ बातचीत में संक्षिप्त टिप्पणी की लेकिन सवालों का जवाब नहीं दिया। मोदी के विशष दूत के तौर पर यहां आए जयशंकर ने कल शीर्ष नेताओं से मुलाकात की और नये संविधान लागू होने में सभी पक्षों की चिंताओं के निराकरण की जरूरत को रेखांकित किया। विदेश सचिव एस जयशंकर ने उल्लेख किया कि इससे सतत शांति और विकास उपलब्धियों की रक्षा होगी.   

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -