श्रीलंका में बाढ़ का कहर 71 की मौत 4 लाख से ज्यादा बेघर

श्रीलंका: भारत में इन दिनों गर्मी अपने चरम पर है. कई जगह पर पारा सालो का रिकॉर्ड तोड़ रहा है. वही श्रीलंका में बारिश आपदा बनके टूटी है. मूसलाधार बारिश के बाद आई भयंकर बाढ़ और भूस्खलनों में अब तक 71 लोगो के मारे जाने की की खबर है. वही इस आपदा में करीब 4 लाख लोग बेघर हुए है. यह देश में पिछले 25 वर्षो में सबसे भयानक स्थिति है. 

श्रीलंकाई आपदा प्रबंधन केंद्र के अनुसार आपदा के कुल 22 जिलों के 3,75,604 लोग बेघर हुए है. राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने देश्वासियो से आपदा पीड़ितों की मदद करने की अपील की गयी है. जिसके बाद देश भर में लोगो द्वारा आपदा पीड़ितों के रति सहानुभूति दिखाई जा रही है. कोलोंबो के नीचे इलाको से आधी से ज्यादा आबादी को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. 

हादसे के बाद श्रीलंका को कई अंतर्राष्ट्रीय देशो द्वारा मदद की पेशकश की गयी है. भारत द्वारा राहत जहाज आईएनएस सुनयना कोच्चि आज सुबह रहत सामग्री लेकर कोलंबो पंहुचा है. इसे पहले दो भारतीय जहाज़ एयर बैलून नौकाएं, गोताखोरी के उपकरण, चिकित्सा सामग्री, बिजली जेनरेटर, स्लीपिंग बैग सही अन्य सामग्री लेकर कल रात ही श्रीलंका रवाना कर दिए गए है.

जापान ने भीं तुरंत जापान इंटरनेशनल कोआपरेशन एजेंसी के द्वारा  कंबल, पानी के टैंक, जलशुद्धि वाले उपकरण, जेनरेटर , इलेक्ट्रिकल केबल समेत राहत सामग्री श्रीलंका भेजी गयी है. आस्ट्रेलिया सरकार यूनीसेफ के माध्यम से आपदा पीड़ितों के लिए 500,000 डॉलर का योगदान करने वाली है. वही नेपाल ने 100,000 डालर के योगदान देने की घोषणा की. हादसे के बाद करीब 300,000 लोग लगभग 500 सरकारी राहत केंद्रों के आश्रय है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -