फ्लिपकार्ट स्टाफ बना करोड़पति

बेंगलुरु : यह जानकर आपको हैरानी होगी कि ऑनलाइन रिटेल सेक्टर की देसी कंपनी फ्लिपकार्ट का स्टाफ अपनी ही कम्पनी के शेयर बेचकर करोड़पति बन गया है .फ्लिपकार्ट ने अपने स्टाफ के पास पड़े 100 मिलियन डॉलर (670 करोड़ रुपये) के शेयर वापस खरीद लिए. यह देश की किसी प्राइवेट कंपनी की तरफ से बड़ी एंप्लॉयी (स्टॉक ऑप्शंस ईएसओपी) में से एक है. कम्पनी के इस फैसले से इसके तीन हजार मौजूदा एवं पूर्व कर्मचारियों को लाभ होगा.

उल्लेखनीय है कि बुधवार को फ्लिपकार्ट ने बताया कि फ्लिपकार्ट समूह के कर्मचारी बायबैक ऑफर में शामिल हुए. यह देश का सबसे बड़ा इएसपीओ पुनः खरीदी कार्यक्रम बन गया. बायबैक ऑफर फ्लिपकार्ट, मिंट्रा, जबॉन्ग और फोन-पे, के कर्मचारी भी शामिल थे. बता दें कि यह फ्लिपकार्ट ही नहीं बल्कि देश के अन्य किसी स्टार्टअप क्षेत्र का सबसे बड़ा बायबैक कार्यक्रम है.

इस बारे में फ्लिपकार्ट के चेयरमैन सचिन बंसल और ग्रुप के सीईओ बिन्नी बंसल ने कहा, कि कर्मचारी हमारी ताकत का बड़ा साधन हैं जिसके बिना फ्लिपकार्ट भारत में ई-कॉमर्स उद्योग खड़ा नहीं कर सकता था. कम्पनी फ्लिपकार्ट की सफलता में उनकी समान भागीदारी की उम्मीद करती है. ईएसओपी रीपर्चेज प्रोग्राम कर्मचारियों के सालों के उनके समर्पण और कठिन परिश्रम के लिए धन्यवाद कहने का एक माध्यम है. स्मरण रहे कि टीएम और लॉजिस्टिक्स वेंचर ब्लैकबक ने भी अपने स्टाफ के लिए इसी तरह के बायबैक का विकल्प दिया था.

यह भी देखें

ट्राई करेगा विमान में वाई-फाई की सिफारिश

15 से 17 दिसंबर के बीच फ्लिपकार्ट पर मचेगी लूट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -