+

खुद को आईपीएस बताकर महिलाओं को करता था परेशान, पुलिस ने किया गिरफ्तार

खुद को आईपीएस बताकर महिलाओं को करता था परेशान, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली: दिनों दिन बढ़ती जा रही जुर्म की बारदात ने लोगों के बीच कोहराम माचक दिया है वहीं फर्जी आईपीएस अधिकारी बनकर महिलाओं को फोन करके सरकारी नौकरी का प्रलोभन देकर परेशान करने वाले उत्तर प्रदेश के एक व्यक्ति को छेड़छाड़  के मामले में रविवार को गुरुग्राम  के एक गांव से गिरफ्तार किया गया. दिल्ली पुलिस  ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के रहने वाले गौरी शंकर (38) के रूप में हुई है. उसे हरियाणा  के मुल्लाहेड़ा गांव से गिरफ्तार कर लिया गया. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 354 अ के तहत (महिलाओं से छेड़छाड़) का मामला दर्ज कर लिया गया है.

व्हाट्सएप पर अश्लील वीडियो और संदेश भेजता था आरोपी: सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस के मुताबिक गौरीशंकर महिलाओं को मोबाइल पर अश्लील संदेश और वीडियो भेजकर परेशान करता था. पुलिस ने बताया कि आरोपी महिलाओं को फोन कर खुद को आईपीएस अधिकारी बताता था और उन्हें सरकारी नौकरी दिलाने का प्रलोभन देता था. परिचय होने के बाद वह महिलाओं को व्हाट्सएप पर अश्लील वीडियो और संदेश भेजता था.

फर्जी IPS बन महिला को परेशान करने वाला व्यक्ति अरेस्ट: वहीं उन्होंने कहा कि जब पुलिस ने फोन नंबर पर संपर्क किया तो फोन उठाने वाले व्यक्ति ने खुद को आईपीएस अधिकारी बताया. उपायुक्त ने कहा जांच के दौरान यह पाया गया कि उस व्यक्ति ने एक फर्जी आईडी (Fake ID) पर नंबर खरीदा था या किसी और के नंबर का इस्तेमाल कर रहा था. नंबर गुजरात के आनंद जिले के पते पर लिया गया है. पुलिस के मुताबिक गौरीशंकर से पीड़ित अधिकांश महिलाएं उत्तर प्रदेश और हरियाणा से हैं. गिरफ्तार होने के बाद आरोपी ने पुलिस को बताया कि कुशीनगर में उसकी सिम कार्ड बेचने की दुकान थी जिसकी वजह से उसके पास कई अनजान लोगों के फोन नंबर थे. चार साल पहले एक दुर्घटना के बाद उसे अपनी दुकान बंद करनी पड़ी. उसके बाद वह दिल्ली में एक सुरक्षा गार्ड की नौकरी करने लगा. वह खुद को उत्तर प्रदेश का वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बता महिलाओं को फोन करने लगा.